देश

मध्य प्रदेश के सागर में विस्फोटक लगाकर क्यों गिरा दिया गया 5 मंजिला होटल

(शशि कोन्हेर) : मध्य प्रदेश के सागर जिले में मंगलवार को भाजपा के निष्कासित नेता मिश्रीचंद गुप्ता का होटल जयराम पैलेस को जमींदोज कर दिया गया। यह होटल मकरोनिया में स्थित था। गुप्ता पर हत्या का आरोप है।

Advertisement

12 घंटे तक चला काम
मकरोनिया स्थित होटल जयराम पैलेस को तोड़ने का काम मंगलवार सुबह से शुरू हुआ, जो करीब 12 घंटे तक चला। इंदौर से आई टीम ने दोपहर 2 बजकर 29 मिनट पर पहला धमाका किया, लेकिन यह विस्फोट असफल रहा। इसके बाद टीम ने शाम साढ़े सात बजे के बाद दूसरा विस्फोट किया, जिसके बाद देखते ही देखते पांच मंजिला होटल जमींदोज हो गया।

Advertisement

बिजली की सप्लाई को किया गया बंद
विस्फोट करने से पहले बिजली की सप्लाई बंद कर दी गई थी। इसके साथ ही, यातायात को भी रोक दिया गया था। होटल गिरने के नजारे को कई लोगों ने अपने कैमरे में कैद किया। इससे पहले, होटल गिराने के लिए सुबह से ही भारी संख्या बल में पुलिस बल को तैनात किया गया था। कलेक्टर दीपक आर्य से साथ ही डीआइजी तरुण नायक और एएसपी विक्रम सिंह कुशवाहा सहित पूरा पुलिस बल व प्रशासनिक अधिकारी मौके पर मौजूद रहे।

Advertisement

इससे पहले, गुप्ता परिवार ने होटल तोड़ने की कार्रवाई पर स्टे को लेकर द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश शिवबालक साहू के यहां आवेदन किया था, लेकिन इसे सुनवाई के बाद निरस्त कर दिया गया। होटल गिराने की कार्रवाई के दौरान बटालियन रोड को पूरी तरह बंद कर दिया था।

क्या है पूरा मामला
दरअसल, निर्दलीय पार्षद के भतीजे जगदीश उर्फ जग्गू यादव की चुनावी रंजिश के चलते 22 दिसंबर 2022 को जीप से कुचलकर हत्या कर दी गई। हत्या का आरोप भाजपा के सांस्कृतिक प्रकोष्ठ के जिला संयोजक मिश्रीचंद गुप्ता और उनके भाई-भतीजे पर लगाया गया। वहीं, हत्या का सीसीटीवी फुटेज सामने आया तो भाजपा ने मिश्रीचंद को पार्टी से निष्काषित कर दिया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button