छत्तीसगढ़बिलासपुर

भाजपा कार्यालय की प्रेस कॉन्फ्रेंस में उप नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर कृष्णमूर्ति बांधी और बेलतरा विधायक रजनीश सिंह ने क्या कहा..?

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : बिलासपुर।केंद्र सरकार की ओर से धान का समर्थन मूल्य MSP बढ़ाए जाने के बाद से ही छत्तीसगढ़ की सियासत गरमाई हुई है। इस मामले में विधानसभा के उपनेता प्रतिपक्ष व मस्तूरी से विधायक डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी ने राज्य की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा  है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने किसानों को कभी अपना नहीं समझा ,केवल बीजेपी की सरकार में ही देश और प्रदेश में किसानों का भला हुआ है।

Advertisement

उनके विकास को लेकर काम किए गए हैं।  केंद्र की मोदी सरकार ने धान के समर्थन मूल्य में 143 रुपए प्रति क्विंटल बढ़ाई है, जो अब 2.183 रुपया हो गया है। ऐसे में कांग्रेस सरकार किसानों को उसका पाई-पाई दे।

Advertisement


उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने धान समेत सभी कृषि उपज के मूल्य में पर्याप्त वृद्धि कर अन्नदाताओं का सम्मान किया है। हम इस मूल्य वृद्धि के लिए प्रधानमंत्री मोदी और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का स्वागत करते हैं। धान के समर्थन मूल्य में 143 रुपए प्रति क्विंटल की वृद्धि कर इसे अब 2.183 रुपया कर दिया गया है। मोदी सरकार की ओर से की गई ये वृद्धि मनमोहन सरकार के कार्यकाल के 1310 रुपए की तुलना में करीब 67 प्रतिशत अधिक है।

Advertisement

वहीं मूंग दाल के समर्थन मूल्य में 803 रुपए, मूंगफली में 527 रुपए, मोटे अनाज ज्यार में 210, बाजरा में 150, रागी में 268 रुपए, मक्का में 128 रुपए, अरहर दाल में 400 रुपए, उड़द दाल में 350 रुपए, सोयाबीन में 300 रुपए की वृद्धि की गई है। छत्तीसगढ़ के किसानों को धान के बढ़े समर्थन मूल्य का लाभ तो मिलेगा ही साथ ही मोटे अनाज की कीमतों में भारी वृद्धि कर भी प्रदेश के किसानों के हित में कल्याणकारी कदम उठाया गया है।

Advertisement


बेलतरा विधायक रजनीश सिंह ने  कहा कि कांग्रेस सरकार में अंतिम वर्ष 2013-14 में एमएसपी पर खरीदी कर किसानों को केवल  64 हजार करोड़  का भुगतान किया जबकि भाजपा के नेतृत्व में चल रही सरकार ने वर्ष 2021-22 में एमएसपी पर खरीदी कर किसानों को लगभग 2लाख 38 हजार करोड़ का भुगतान किया। यानी मोदी सरकार किसानों को 4 गुना भुगतान कर रही है। कांग्रेस के शासन काल में लाभार्थी किसान केवल 70 लाख थे। जबकि भाजपा के शासन में 1 करोड़ 32 लाख से ज्यादा है कांग्रेस के शासन काल में 10 वर्षों में डीएपी  520 रुपए प्रति बोरी से 1300 रू. प्रतिबोरी तक बढ़ाई गई, जोकि 10 वर्षों में 145 प्रतिशत की वृद्धि थी।

जबकि भाजपा के शासन काल में 9 वर्षों में केवल 50 रूपए की वृद्धि हुई जोकि न के बराबर है।   कांग्रेस ने जितना समर्थन मूल्य बढ़ाया उतना ही खाद का मूल्य भी बढ़ाया। नींदा नाशक नोविनो गोल्ड प्रति लीटर वर्ष 2014 में 6800 रू था जबकि भाजपा के शासनकाल में वर्ष 2023 में 3200 रु. प्रति लीटर है। खाद सब्सिडी कांग्रेस कार्यकाल में 38 हजार करोड़ रुपया प्रतिवर्ष थी जबकि भाजपा के कार्यकाल में 1 लाख 8 हजार  करोड़ रुपया प्रतिवर्ष है। 2 लाख 60 हजार करोड़ से ज्यादा की राशि किसान सम्मान निधि के रूप में डायरेक्ट किसानों के खाते में डाली गई है।।

आज प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भाजपा कार्यालय में मस्तूरी विधायक डॉक्टर कृष्णमूर्ति बांधी समेत बेलतरा विधायक रजनीश सिंह भाजपा जिला अध्यक्ष रामदेव कुमावत  उपस्थित रहे

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button