छत्तीसगढ़

आईजी बद्री नारायण मीणा के द्वारा बिलासपुर रेंज अंतर्गत जिलों के पुलिस अधीक्षकों सहित राजपत्रित अधिकारियों की ली गई वर्चुअल बैठक

Advertisement

(आशीष मौर्य) : बिलासपुर – बुधवार को बद्री नारायण मीणा, पुलिस महानिरीक्षक बिलासपुर द्वारा रेंज अंतर्गत जिलों के पुलिस अधीक्षकों सहित राजपत्रित अधिकारियों की वर्चुअल बैठक ली गई, जिसमें जिलों के अभियोजन अधिकारी भी उपस्थित रहे। बैठक में जिले के कई महत्वपूर्ण विषयों की समीक्षा की गई, जिसके अंतर्गत बैठक में दोषमुक्ति प्रकरण, अनियमित वित्तीय कंपनियों के विरूद्ध दर्ज प्रकरण तथा गुम बच्चों की बरामदगी के लिये चलाये जा रहे विशेष अभियान ‘ऑपरेशन मुस्कान’ तथा आगामी चुनावों के संबंध में तैयारियों पर विस्तृत चर्चा की गई। पुलिस महानिरीक्षक द्वारा पुलिस अधीक्षकों को सभी विषयों पर महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश दिये गये।

Advertisement

जिलों के पुलिस अधीक्षक सहित अभियोजन अधिकारियों की उपस्थिति में जिलों के आपराधिक प्रकरणों में माननीय न्यायालयों से हुई दोषमुक्ति प्रकरणों की समीक्षा की गई। बैठक में माह-अप्रैल-2023 में जिलेवार माननीय न्यायालयों में आपराधिक प्रकरणों में हुई कुल 583 प्रकरणों की समीक्षा की गई, जिसमें आरोपी के दोषमुक्त होने के संबंध में अभियोजन एवं विवेचना में पाई गई खामियों के संबंध में चर्चाएं हुई। पुलिस महानिरीक्षक द्वारा माननीय न्यायालयों से पारित दोषमुक्त निर्णय की समीक्षा करते हुए आरोपी के दोषमुक्त होने के कारणों एवं विवेचना में पाई गई खामियों को चिन्हांकित करते हुए विवेचना के स्तर में सुधार हेतु अभियोजन स्तर पर आवश्यक कार्यवाही किये जाने पर बल दिया गया।

Advertisement

दोषसिद्धि के लक्ष्य प्राप्ति के लिये निर्देशित किया गया कि जिन प्रकरणों में प्रार्थी/गवाहों एवं पीड़ित के पक्षद्रोही होने के कारण आरोपी दोषमुक्त हो रहे हैं, इन प्रकरणों की समीक्षा कर गुणदोष के आधार पर तत्काल अपील की कार्यवाही की जावे। पॉक्सो एक्ट के प्रकरणों में पीड़ित का उम्र् निर्धारण संबंधी माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा दिये गये दिशा-निर्देश अनुसार दस्तावेजों की जप्ती की जावे।

Advertisement

पुलिस महानिरीक्षक द्वारा बैठक में अनियमित वित्तीय कंपनियों के विरूद्ध दर्ज प्रकरणों की समीक्षा अंतर्गत अनियमित कंपनियों के फरार संचालकों और पदाधिकारियों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु विशेष टीम गठित करने जिलों के नोडल अधिकारियों को निर्देशित किया गया साथ ही जिन प्रकरणों में संपत्ति का चिन्हांकन किया जाना है, ऐसे प्रकरणों में राज्य के भीतर एवं राज्य के बाहर स्थित अचल संपत्तियों का शीघ्र चिन्हांकन करने निर्देशित किया गया। अनियमित वित्तीय कंपनियों के विरूद्ध दर्ज प्रकरणों में अंतरिम कुर्की, अंतिम कुर्की, नीलामी और निवेशकों की धन वापसी की नियमित समीक्षा किये जाने तथा चिन्हांकित संपत्ति की कुर्की के लिये यथाशीघ्र कार्यवाही कराये जाने साथ ही जिन प्रकरणों में आर.ओ.सी. (रजिस्टर्ड ऑफ कंपनीज) प्राप्त नहीं की गई है उनका आर.ओ.सी. प्राप्त कर आर.ओ.सी. के आधार पर संचालक/पदाधिकारियों का नाम प्रकरणों में जोड़े जाने पर एवं फरार आरोपियों का शीघ्र लुकआउट सर्कुलर जारी कराये जाने पर विशेष जोर दिया गया।

Advertisement

कलेक्टर कार्यालय में प्राप्त आवेदन पत्रों के शीघ्र निराकरण के लिये संबंधित जिले के कलेक्टर से मॉनिटरिंग सेल की बैठक में चर्चा कर आगामी कार्यवाही पूर्ण किये जाने निर्देशित किया गया। अन्य राज्यों व जेलों में निरूद्ध अनियमित वित्तीय कंपनियों के संचालक और पदाधिकारियों की गिरफ्तारी हेतु शीघ्र नियमानुसार कार्यवाही पूर्ण किये जाने एवं ऐसे आरोपियों की गिरफ्तारी में किसी प्रकार कोई समस्या आ रही हो तो माननीय न्यायाधीश के साथ होने वाली मॉनिटरिंग सेल की बैठक में इन समस्याओं के संबंध में चर्चा कर निराकरण हेतु आवश्यक कार्यवाही करने निर्देशित किया गया।

पुलिस महानिरीक्षक द्वारा निर्देशित किया गया कि पुलिस मुख्यालय के निर्देशानुसार सभी जिलों में दिनांक 01.06.2023 से 30.06.2023 तक गुम बच्चों की बरामदगी हेतु ‘ऑपरेशन मुस्कान’ चलाया जा रहा है, इसके तहत जिलों में विशेष टीम गठित कर अधिक-से-अधिक गुम बच्चों की बरामदगी तत्परता और संवेदनशीलता के साथ सुनिश्चित करने हेतु निर्देश दिये गये।

पुलिस महानिरीक्षक द्वारा आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों के दृष्टिगत पुलिस की क्षेत्र में प्रभावी उपस्थिति सुनिश्चित करने तथा आम जनजीवन को प्रभावित करने वाले तत्वों एवं संदिग्ध आचरण व अवांछित व्यक्तियों पर तत्काल प्रभावी कार्यवाही किये जाने निर्देशित किया गया। पुलिस महानिरीक्षक द्वारा इस बात पर विशेष ज़ोर दिया गया कि क्षेत्र में किसी प्रकार से कानून-व्यवस्था की स्थिति निर्मित न हो तथा कानून-व्यवस्था की स्थिति उत्पन्न करने वाले अवॉंछित तत्वों पर प्रभावी कार्यवाही की जावे। आगामी चुनाव के संबंध में वरिष्ठ कार्यालयों से जारी दिशा-निर्देशों अनुसार आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने निर्देशित किया गया।

समीक्षा बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रायगढ़ श्री सदानंद कुमार, पुलिस अधीक्षक बिलासपुर श्री संतोष सिंह, पुलिस अधीक्षक जांजगीर-चाम्पा श्री विजय अग्रवाल, पुलिस अधीक्षक सारंगढ़-बिलाईगढ़ श्री आशुतोष सिंह, श्री पुलिस अधीक्षक मुंगेली श्री चंद्रमोहन सिंह, पुलिस अधीक्षक कोरबा श्री यू. उदय किरण, पुलिस अधीक्षक सक्ती श्री एम.आर.आहिरे, पुलिस अधीक्षक गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही योगेश कुमार पटेल, अति.पुलिस अधीक्षक पुमनि. कार्यालय श्रीमती दीपमाला कश्यप, अति.पुलिस अधीक्षक रायगढ़ श्री संजय महादेवा, अति.पुलिस अधीक्षक गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही श्रीमती अर्चना झा, अति.पुलिस अधीक्षक(ग्रामीण) बिलासपुर श्री राहुल देव शर्मा, उप पुलिस अधीक्षक पुमनि. कार्यालय श्रीमती माया असवाल एवं संयुक्त संचालक अभियोजन बिलासपुर श्री माखनलाल पाण्डेय, उप संचालक अभियोजन बिलासपुर श्री श्याम लाल पटेल, उप संचालक अभियोजन कोरबा श्री ए.बी. गुरू, उप संचालक अभियोजन रायगढ़ श्री वेदप्रकाश पटेल, सहायक लोक अभियोजन अधिकारी मुंगेली श्रीमती गीता सिंह, सहायक लोक अभियोजन अधिकारी सक्ती श्री अरविंद जायसवाल उपस्थित रहे।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button