देश

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे बाल बाल बचे  कारकेड में शामिल थाना की गाड़ी पलटी चार घायल

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : केंद्रीय मंत्री अश्विनी एक सड़क हादसे में बाल-बाल बच गए। बक्सर से पटना लौटने के क्रम में डुमराव के मठीला-नारायणपुर पथ के सड़की पुल के नहर में कारकेड में चल रही क़ोरानसराय थाने की गाड़ी पलट गयी। इसके ठीक पीछे मंत्री की गाड़ी चल रही थी। केंद्रीय मंत्री अश्वनिनी अपनी इनोवा कार में सवार थे।ड्राइवर के सूझबूझ से बड़ी दुर्घटना टल गई। दुर्घटना रविवार की  देर रात को हुई। घटना के बाद मौके पर अफरा तफरी मच गई।

Advertisement

इस सड़क हादसे में समेत चार पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस गाड़ी का ड्राइवर भी चोटिल हो गया।सभी केंद्रीय मंत्री की सुरक्षा में शामिल थे। दो पुलिसकर्मियों को अधिक चोटें आईं हैं। सभी का इलाज सदर अस्पताल में कराया गया। केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे अपनी देख रेख में घायलों को अस्पताल ले गए। जो दो कर्मी ज्यादा घायल हैं उन्हें पटना रेफर कर दिया गया।

Advertisement

मंत्री अश्विनी चौबे ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि डुमराव के मठीला-नारायणपुर रोड पर पुल के नहर में कारकेड में चल रही कोरानसराय थाने की गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई। प्रभु श्रीराम की कृपा से सभी कुशल हैं। घायल पुलिसकर्मियों और चालक को लेकर डुमराव सदर अस्पताल ले जा रहा हूं। उसके बाद मंत्री अश्विनी चौबे घायलों को लेकर सदर अस्पताल गए। वहां इलाज के दौरान खुद डटे रहे। मंत्री ने बताया कि सभी घायल खतरे से बाहर हैं।

उन्होंने कहा कि सभी ने जो बहादुरी दिखाई है उसके लिए धन्यवाद देता हूं। कहा कि भाजपा कार्यकर्ता अजय तिवारी, अंगरक्षक नागेंद्र कुमार चौबे, मोहित कुमार, धनेश्वर कुमार, कुंजबिहारी ओझा, एएसआई जयराम कुमार, मुकेश कुमार, सुजय कुमार, प्रेमकुमार सिंह ने फुर्ती दिखाते हुए नहर में पलटी गाड़ी से पुलिस कर्मियों को निकालने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। गाड़ी से एक जवान का हथियार को भी निकाला गया। मंत्री ने उन्हें पुरस्कृत करने की बात कही।

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे गंगा के पावन तट पर दुनिया के सबसे लंबे रिवर क्रूज हगंगा विलास पर विदेशी पर्यटकों से मिलने बक्सर गए थे। मंत्री ने सभी विदेशी यात्रियों का स्वागत और अभिनंदन किया। उसके बाद वे पटना लौट रहे थे। इससे पहले उन्होंने विदेशी पर्यटकों को बक्सर की सांस्कृतिक, आध्यात्मिक और ऐतिहासिक महत्व के बारे में बताया। अश्विनी चौबे ने कहा कि यह रिवर क्रूज यात्रा नदी किनारे स्थित शहरों में पर्यटन व रोजगार के दृष्टिकोण से मील का पत्थर साबित होगी। प्रधानमंत्री का यह प्रयत्न पर्यटन को बढ़ावा देगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button