बिलासपुर

इस बार 15 अगस्त को बिलासपुर के पुलिस मैदान में क्या अटल श्रीवास्तव फहरायेंगे तिरंगा और‌ लेंगे सलामी…! या शैलष पाण्डेय अथवा किसी और को मिलेगी जिम्मेदारी

(शशि कोन्हेर) : बिलासपुर – स्वतंत्रता के स्वर्ण जयंती वर्ष में बिलासपुर के पुलिस मैदान में होने वाले स्वतंत्रता दिवस समारोह में मुख्य अतिथि बनकर कौन सी शख्सियत झंडारोहण कर सलामी लेती है… इस ओर इसका पूरे बिलासपुर शहर को इंतजार है। चूंकि प्रदेश शासन ने हाल ही में पर्यटन मंडल के अध्यक्ष श्री अटल श्रीवास्तव को कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया है। इससे ऐसा लग रहा है कि इस बार 15 अगस्त को पुलिस मदाम में मैदान में होने वाले समारोह में श्री अटल श्रीवास्तव ही मुख्य अतिथि बनकर झंडारोहण कर परेड की सलामी ले सकते हैं। बिलासपुर में यह पहला मौका नहीं है जब शहर के लोगों में इसे लेकर खासा कौतुहल बना हुआ है। सन 2018 में हुए विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की भारी बहुमत से जीत हुई और श्री भूपेश बघेल प्रदेश के मुख्यमंत्री बने।

Advertisement

इस चुनाव में बिलासपुर विधानसभा क्षेत्र से श्री शैलेश पांडे कांग्रेस की टिकट पर विधायक निर्वाचित किए गए। लिहाजा उनके समर्थकों को उम्मीद थी कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद 26 जनवरी, 2019 को पुलिस मैदान में‌ होने वाले पहले श्री शैलेष पाण्डेय को गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि बना कर झंडारोहण और परेड की सलामी लेने का अवसर दिया जा सकता है। लेकिन प्रदेश शासन से इस बाबत जो सूची जारी हुई उसमें तखतपुर विधायक अब संसदीय सचिव श्रीमती रश्मि सिंह को बिलासपुर के पुलिस मैदान में 26 जनवरी 2019 को होने वाले समारोह में मुख्य अतिथि बनाया गया। इससे ऐसे लोग मायूस हो गए जो मान बैठे थे कि प्रदेश शासन से ये जिम्मेदारी बिलासपुर विधायक शैलेश पांडे को ही दी जाएगी। श्री भूपेश बघेल के मुख्यमंत्री बनने के बाद बिलासपुर के पुलिस मैदान में 26 जनवरी 2019 से लेकर 26 जनवरी 2022 तक हुए कुल सात स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस समारोह हो चुके है।

Advertisement

इनमें श्रीमती रश्मि सिंह के बाद 15 अगस्त 2019 को जिले के तत्कालीन प्रभारी मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू उनके बाद जलसंधारण मंत्री श्री रविंद्र चौबे फिर उच्च शिक्षा मंत्री श्री उमेश पटेल और इसके बाद एक बार फिर श्री उमेश पटेल तथा 15 अगस्त को 2021 में हुए समारोह में श्री जयसिंह अग्रवाल को मुख्यमंत्री बनाया गया। इसके पश्चात 26 जनवरी 2022 को हुए गणतंत्र दिवस समारोह में रायपुर विधायक (संसदीय सचिव) श्री विकास उपाध्याय को मुख्य अतिथि बनाकर झंडारोहण और परेड की सलामी लेने की जिम्मेदारी दी गई। इस दौरान बिलासपुर विधायक श्री शैलेश पांडे को एक बार भी यह अवसर नहीं दिया गया।

Advertisement


अब इस बार स्वतंत्रता दिवस की रजत जयंती के अवसर पर 15 अगस्त 2022 को प्रदेश शासन किन्हे बिलासपुर के पुलिस मैदान में मुख्य अतिथि बना कर झंडारोहण तथा परेड की सलामी लेने का सम्मान प्रदान करता है। बीते दिनों प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के द्वारा प्रदेश के पर्यटन मंडल अध्यक्ष श्री अटल श्रीवास्तव का दर्जा को कैबिनेट केबिनेट रैंक का दर्जा दे दिया गया है। इससे श्री श्रीवास्तव के समर्थकों को उम्मीद है कि इस बार रजत जयंती वर्ष पर बिलासपुर के पुलिस मैदान में होने वाले मुख्य समारोह में श्री अटल श्रीवास्तव को मुख्य अतिथि बनने और झंडारोहण तथा परेड की सलामी लेने का अवसर मिल सकता है। वैसे भी बिलासपुर जिले में मौजूदा समय में केबिनेट का दर्जा मिलने के बाद श्री अटल श्रीवास्तव का ओहदा प्रोटोकॉल में जिले के प्रभारी मंत्री को छोड़कर सबसे ऊपर हो गया है।


वैसे यहां यह बताना लाजमी है कि किस जिले के स्वतंत्रता दिवस समारोह अथवा गणतंत्र दिवस समारोह में कौन मुख्य अतिथि रहेंगे इसका विशेषाधिकार मुख्यमंत्री के पास ही रहता है। और इसलिए भी बिलासपुर के लोगों को यह उम्मीद है कि इस बार 15 अगस्त 2022 को पुलिस मैदान में झंडारोहण करने और सलामी लेने का सम्मान श्री अटल श्रीवास्तव को मिल सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button