देश

पार्किंग के झगड़े में मचा कोहराम…. पटना में दबंग ने पांच को मारी गोली…दो की मौत.. आक्रोशित भीड़ ने घर में लगाई आग

(शशि कोन्हेर) : पटना के फतुहा में नदी थाने के जेठुली गांव में रविवार को पार्किंग के विवाद में दो पक्षों के बीच जमकर बवाल हुआ। इस घटना में हुई गोलीबारी में पांच लोग घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए पीएमसीएच, एनएमसीएच भेजा गया जहां इलाज के दौरान दो लोगों की मौत हो गई। दोनों ओर से 50 राउंड से ज्यादा गोलियां चलीं। मौत की खबर मिलते ही ग्रामीण उग्र हो गए और उमेश राय के घर, मैरिज हॉल और एक कार को आग के हवाले कर दिया। इधर घटना की सूचना मिलते ही विभिन्न थानों की पुलिस, दमकल, रैफ के जवान मौके पर पहुंच गए और स्थिति को नियंत्रण करने में जुटे है।

Advertisement

इस मामले में अब तक पुलिस ने आरोपित सतीश कुमार, बलदेव सिंह, विजय कुमार, राहुल कुमार, सुनील कुमार, आर्यन कुमार और अमन राज को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं फरार आरोपितों की तलाश में छापेमारी जारी है। एसएसपी मानवजीत ढिल्लो ने बताया कि गत पंचायत चुनाव में उमेश राय और बिट्टू कुमार के बीच उम्मीदवारी को लेकर आपसी सहमति बनी थी लेकिन राजनीतिक कारणों से बाद में सहमति कायम नहीं रहीष दोनों पक्षों के बीच अदावत शुरू हो गई।

Advertisement

रविवार की दोपहर करीब 1.30 बजे बिट्टू कुमार और उमेश राय के साथ उनके भाई बच्चा राय के बीच गंगा घाट के किनारे ट्रैक्टर पार्किंग को लेकर गाली-गलौज होने लगा। और मामला बिगड़ गया। इसी बीच उमेश राय के लोग हथियार से लैस होकर आए और बिट्टू पक्ष के लोगों पर अंधाधुध फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगने से गौतम कुमार, रौशन कुमार समेत मुनारिक राय, नागेंद्र राय और चनारिक राय घायल हो गए। बाद में इलाज के दौरान गौतम और रौशन की मौत हो गई।

Advertisement

भारी पुलिस बल के सामने आक्रोशित ग्रामीणों ने उमेश राय के मैरेज हॉल में खड़ी कार के अलावा बाहर खड़े अन्य वाहनों में आग लगा दी इसके बाद मैरेज हॉल को आग के हवाले कर दिया। इससे भी लोगों का मन नहीं भरा तो लोगों ने उमेश राय के घर में भी आग लगा दी। इसके बाद पुलिस ने सख्ती बरतते हुए घेराबंदी की तथा घर के सदस्यों को बालकनी के रास्ते रस्सी और सीढ़ी के सहारे घर से बाहर निकालकर जान बचाई। इधर मैरेज हॉल के बगल के कुछ घर भी आग की जद में आ गए जिससे उनलोगों के भी सामान जलकर राख हो गए। इधर उग्र भीड़ ने बाहर निकलकर भी कई वाहनों और बाइक को आग के हवाले कर दिया।

आग लगाने के बाद उपद्रवी वहीं डटे रहे। पुलिस ने अगलगी की सूचना फायर ब्रिगेड को देते हुए बिजली बंद करवा दी। इधर दमकल के पहुंचते ही लोग आक्रोशित हो गए और दमकल को मौके तक आने से रोक दिया। इसके बाद पुलिस ने कड़ा रुख अपनाते हुए दमकल को मौके पर पहुंचवाया तब कहीं जाकर आग पर काबू पाया जा सका। हालांकि तब तक इस आगजनी में काफी नुकसान हो चुका था।

ग्रामीणों के उग्र भीड़ के आगे पुलिस भी बेबस थी। इधर इसकी आड़ में कुछ उपद्रवी उमेश राय के घर में घुस गए और लूटपाट करने लगे। हालांकि पुलिस ने इसकी जानकारी मिलते ही किसी प्रकार दबिश बनाई और घर में घुसे उपद्रवियों को रंगेहाथ पकड़कर उनलोगों के पास के रुपये और जेवरात बरामद करते हुए हिरासत में ले लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button