Uncategorized

उज्जैन के महाकाल मंदिर में भगदड़, युवक हुआ बेहोश, कई लोग घायल

(शशि कोन्हेर) : सावन के महीने की दूसरे सोमवार होने के कारण महाकाल के दर्शन के लिए सोमवार को भारी भीड़ उमड़ गई। सुबह करीब छह बजे मंदिर की लाइन में चारधाम मंदिर के सामने भगदड़ की स्थिति बन गई। इससे कुछ लोग उसमें दब गए। सात से ज्यादा लोगों के घायल होने की भी जानकारी है।

Advertisement

मालूम हो कि सावन मास में बाबा महाकाल के दर्शन के लिए हजारों श्रद्धालु उज्जैन पहुंच रहे है। सोमवार को दर्शन के लिए हजारों लोग लाइन में लगे थे। लाइन चारधाम मंदिर के आगे तक पहुंच गई थी। सुबह करीब छह बजे एकाएक भगदड़ की स्थिति बन गई। जिससे कुछ लोग भीड़ के कारण दब गए। जिससे करीब सात लोग घायल हो गए। क्यूआरएफ की टीम तथा पुलिसकर्मियों ने स्थिति संभाली और लोगों को उपचार के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया।

Advertisement

वहीं, गुना के आरोन निवासी एक युवक दबने से बेहोश हो गया तो एक युवक घायल हो गया। दोनों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। बताया जा रहा है कि सात से ज्यादा लोग घायल हुए हैं ।

Advertisement

सावन के दूसरे सोमवार पर महाकाल के दर्शनों के लिए उमड़ा आस्‍था का सैलाब

वहीं, श्रावण मास के दूसरे सोमवार को बड़ी संख्या में श्रद्धालु ज्योतिर्लिंग महाकाल में भगवान भस्मरमैया के दर्शन करने पहुंचे। देशभर से आए 2500 श्रद्धालुओं को दर्शन की अनुमति दी गई। गर्भगृह के सामने नंदी हॉल, गणेश मंडपम, कार्तिकेय मंडपम के दर्शनार्थियों ने बाबा महाकाल के दिव्य दर्शन किए।

प्रात:काल में पट खुलने के बाद, प्रभु का अभिषेक किया गया। फिर श्रृंगार हुआ। फिर महानिर्वाणी अखाड़े की ओर से महाकाल को अस्थियां अर्पित की गईं। जयकारों से पूरा मंदिर परिसर गूंज उठा। भस्म आरती के बाद दर्शन की प्रक्रिया शुरू हुई। यह दोपहर 2 बजे तक जारी रहेगी। शाम की सवारी के कारण कुछ समय के लिए दर्शन बंद कर दिए जाएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button