अम्बिकापुर

कांग्रेस का अभेद किला सीतापुर विधानसभा…. वर्तमान विधायक व मंत्री को हरा पाना भाजपा के लिए बड़ी चुनौती

Advertisement

सरगुजा जिले की सीतापुर विधानसभा सीट में कांग्रेस का अभेद किला है। 1952 से अब तक हुए चुनाव में भी भाजपा के किसी उम्मीदवार ने जीत दर्ज नहीं की है। छत्तीसगढ़ की यह इकलौती सीट है, जहां भाजपा के लिए जीत चुनौती बनी हुई है।

Advertisement

वर्तमान विधायक अमरजीत भगत कांग्रेस सरकार मे मंत्री हैं, छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के बाद 2003 में पहली बार वे विधानसभा जीत कर विधायक बने, तब से अमरजीत भगत लगातार सीतापुर से विधायक चुने गए, तीन बार विपक्ष के विधायक तो चौथी बार सरकार में खाद्य एवं संस्कृति मंत्री रहे। 2018 विधानसभा चुनाव में सीतापुर सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी अमरजीत भगत को 86670 वोट मिले, व भाजपा के प्रोफेसर गोपाल राम को 50 हजार 533 वोट मिले।

Advertisement

भाजपा ने सीतापुर विधानसभा से पूर्व CRPF जवान रामकुमार टोप्पो को अपना प्रत्याशी बनाया हैं, पर उनके लिए अमरजीत भगत को हराना आसान नही होगा, अमरजीत भगत का उनके क्षेत्र में काफी जनाधार हैं।

3 बार विपक्ष विधायक के कार्यकाल के दौरान भी उन्होंने सीतापुर विधानसभा के लिए काफी संघर्ष किया। मंत्री बनने के बाद भगत काफी सक्रिय रहे, क्षेत्रवासियों के लिए काफी विकास के कार्य किये, इस कारण जनता के बीच उनकी काफी अच्छी पकड़ हैं। कभी-कभी तो वह पहाड़ो-पगडंडियों, नदियों को पार करके गाँव के अंतिम छोर तक पहुँचकर विकास कार्यों की सौगात देते नजर आये हैं, इस कारण अंतिम मतदाता तक उनकी सीधी पहुँच हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button