देश

शिवराज की बढ़ी परेशानी, भोपाल में शराब की दुकान के सामने उमा भारती ने डाला डेरा लिया ये प्रण 

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : मध्य प्रदेश सरकार की तीन दिन बाद आने वाली संभावित नई शराब नीति से पहले भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने इसमें नियंत्रित शराब वितरण प्रणाली शामिल करने की मांग को लेकर यहां शराब की एक दुकान के सामने मंदिर में 31 जनवरी तक डेरा डाल दिया है।

Advertisement

पूर्ण शराबबंदी का समर्थन करने वालीं उमा भारती लंबे समय से नशामुक्ति को बढ़ावा देने के लिए मध्य प्रदेश की शराब नीति में बदलाव कर नियंत्रित शराब वितरण प्रणाली लागू करने की मांग कर रही हैं।

Advertisement

भारती शनिवार दोपहर भोपाल के अयोध्या नगर तिराहे स्थित एक मंदिर पहुंचीं और घोषणा की कि वह 31 जनवरी को राज्य सरकार की नई शराब नीति के ऐलान के इंतजार में अगले तीन दिनों तक इसी मंदिर में रहेंगी और वहीं बैठकर इसको सुनेंगी।

उन्होंने कहा- मैंने कभी नहीं कहा कि पूर्ण शराबबंदी होनी चाहिए। मैंने कहा था कि अगर यह नियंत्रण में रहता तो मैं पूर्ण शराबबंदी लागू करती। मुझे मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर पूरा भरोसा है। मैं 31 जनवरी को नई शराब नीति के बारे में फैसले का इंतजार करूंगी।

उमा भारती ने कहा- मैं पूर्ण शराबबंदी करने के लिए नहीं कह रही हूं। मैं कांग्रेस को इसका फायदा नहीं देना चाहती हूं। इस मुद्दे पर तो भाजपा ने कांग्रेस के खिलाफ विरोध का बिगुल फूंका था। हमने खनन नीति का भी विरोध किया था। हमें सत्ता पक्ष में आकर सारी बातें भूल सी गई हैं। हमें सारी बातें याद करनी पड़ेगी।

यदि मेरे कहने पर नियंत्रित शराब वितरण प्रणाली लागू हो गई तो मध्य प्रदेश की महिलाएं भाजपा के पक्ष में जमकर मतदान करेंगी। शराब में तो सब बह जाता है। लाडली लक्ष्मियां भी सड़क पर नहीं चल पातीं। ना तो जननी सुरक्षा ही हो पाती है।

उमा भारती ने कहा कि वह नहीं चाहतीं कि उनके रुख से कांग्रेस को फायदा हो। यदि भाजपा नीत प्रदेश सरकार नियंत्रित शराब वितरण प्रणाली लागू करती है तो भाजपा 2003 में प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव की तरह इस साल नवंबर में होने वाले विधानसभा चुनाव में भी अपनी रिकॉर्ड जीत को दोहराएगी। मालूम हो कि मुख्यमंत्री चौहान ने दो दिन पहले 74वें गणतंत्र दिवस पर जबलपुर के गैरिसन ग्राउंड पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहा था कि हम नई शराब नीति ला रहे हैं। उसमें इस कारोबार को हतोत्साहित करने का प्रयास करेंगे।

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button