play-sharp-fill
बिलासपुर

शंकराचार्य स्वामी सदानंद सरस्वती पहुँचे बिलासपुर, अग्रवाल परिवार ने किया आत्मीय स्वागत….लिया आशीर्वाद

Advertisement

(शशि कोन्हेर के साथ प्रदीप भोई) : बिलासपुर – द्वारका शारदा पीठ के जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी सदानंद सरस्वती मंगलवार की शाम मंगला चौक श्री कृष्णा राइस मिल परिसर स्थित मंगतराय अग्रवाल अशोक अग्रवाल के निवास पहुंचे, यहाँ पूरे परिवार ने जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी सदानंद सरस्वती जी महाराज की पूरे परिवार ने आरती उतारी और उनका आशीर्वाद लिया।

Advertisement

द्वारका शारदा पीठ के शंकराचार्य स्वामी सदानंद सरस्वती, झारखंड जाते हुए बिलासपुर में श्री मंगत राय अग्रवाल, श्री अशोक अग्रवाल की माता स्व गीता देवी अग्रवाल के निधन होने के बाद, उनसे मिलने कृष्णा राइस मिल परिसर स्थित उनके निवास पहुंचे। वहां स्वामी सदानंद सरस्वती ने सभी से भेंट कर शोक व्यक्त किया।

Advertisement

भेंट के दौरान द्वारका शारदा पीठ के शंकराचार्य स्वामी सदानन्द सरस्वती ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि राम राज्य के बिना हिंदू राष्ट्र की कल्पना नहीं की जा सकती। रावण भी हिंदू था लेकिन उसकी पूजा नहीं होती‌। इसीलिए रामराज्य जैसा शासन लाना होगा उन्होंने कहा कि भारत अभी भी हिंदू राष्ट्र ही है क्योंकि 130 करोड़ में से 100 करोड़ की जनसंख्या तो हिंदुओं की है, हिंदू राष्ट्र के लिए संविधान संशोधन करना होगा जो आसान नहीं है उन्होंने कहा कि सभी सनातनियोंऔर धर्मावलंबियों को एकजुट होना होगा। जिससे की बाहरी तत्व मतभेद पैदा न कर सकें। इसी तरह दलगत राजनीति से ऊपर उठकर सनातन धर्म के लिए काम करना होगा। स्वामी सदानन्द सरस्वती ने कहा कि चमत्कार होता है इसे स्वीकार करना होगा। लेकिन चमत्कार को अक्षरश स्वीकार नहीं किया जा सकता। ऐसा इसलिए क्योंकि इसके दुरुपयोग की आशंका होती है। शंकराचार्य ने कहा कि हमें सनातन हिंदू धर्म की सेवा करने की जिम्मेदारी दी गई है हम इसे पूरा करने का प्रयास करेंगे।

आदि शंकराचार्य ने हिंदू धर्म की रक्षा के लिए चार पीठों की स्थापना की और वहां प्रचार के लिए एक संविधान बनाया जिसके तहत हमें काम करना होता है। हम अपने देश को नास्तिकता या धर्मांतरण व गौहत्या जैसे ज्वलंत मुद्दों और भारतीय संस्कृति को हमले से बचाएंगे। हमारी यात्रा भ्रमण धर्मसभा उपदेश आदि धर्मांतरण को रोकने के लिए एकमात्र साधन है।

इस मौके पर संसदीय सचिव तखतपुर विधायक रश्मि सिंह, अभिषेक अग्रवाल, चंचल अग्रवाल, पंकज अग्रवाल सहित बड़ी संख्या में उनके अनुयायी मौजूद थे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button