छत्तीसगढ़

न्यायधानी में सरेआम हत्या और मुख्यमंत्री दे रहे पुलिस को शाबासी, क्या यही है कानून का राज- चंदेल

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : रायपुर। नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल ने न्यायधानी (मस्तुरी क्षेत्र के मानिकचौरी) में किराना दुकान में गोली मारकर युवक की हत्या की वारदात का हवाला देते हुए कहा है कि इधर मुख्यमंत्री सर्किट हाउस में पुलिस को बेहतर कानून व्यवस्था के नाम पर शाबासी दे रहे थे। और उधर बिलासपुर में मस्तुरी क मानिकचौरी में दो बदमाशों ने एक किराना दुकान में गुंडई करते हुए व्यापारी के परिवार के साथ मारपीट कर उसके बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी। यह है मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का कानून का राज। उन्हें यूपी जैसा सख्त लॉ एंड ऑर्डर नहीं, जंगल राज चाहिए लेकिन छत्तीसगढ़ की जनता ऐसे जंगल राज से बुरी तरह त्रस्त है और उससे छुटकारा पाने बेचैन है।

Advertisement

नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल ने कहा कि मुख्यमंत्री के गृह जिले में सामूहिक नरसंहार हो रहा है। किसी को पीड़ित परिवार तक पहुंचने की फुर्सत नहीं मिली। जशपुर में तीन लोगों की सामूहिक हत्या हो गई। राजधानी और न्यायधानी में हर रोज चाकूबाजी की वारदातें हो रही हैं। स्कूली बच्चे और युवतियां तक हत्या जैसी संगीन वारदातों को अंजाम देने लगे हैं। राजधानी और न्यायधानी सहित राज्य भर में हर रोज हत्या और हत्या के प्रयास की घटनाएं घटित हो रही हैं। ऐसा कोई दिन नहीं जब महिलाओं के साथ उत्पीड़न, दुराचार, छेड़छाड़ और अन्य तरह के अपराध घटित न हो रहे हों। राजधानी रायपुर शहर और नवा रायपुर में आये दिन लूटपाट राहजनी और मारपीट की घटनाएं हो रही हैं।

Advertisement

न्यायधानी में सराफा कारोबारी पर ज्वेलर्स दुकान में घुसकर गोली मारकर लूट की वारदात को अंजाम दिया जा रहा है। पूरे प्रदेश में यही स्थिति है। राजधानी से लेकर न्यायधानी तक, सरगुजा से लेकर बस्तर तक और राजनांदगांव से लेकर रायगढ़ तक कहीं भी कोई भी सुरक्षित नहीं है। राजधानी और न्यायधानी में तक कानून का राज नहीं है और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कानून के राज की दुहाई देते हैं। यह देश की सर्वाधिक अराजक सरकार है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button