छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ का गौरव : मनौद के चिन्मय सेना में लेफ्टिनेंट बने, लद्दाख के बॉर्डर पर देंगे सेवा

Advertisement

(आशीष मौर्य) : छत्तीसगढ़ के 5 युवा बने सैन्य अधिकारी बालोद मुख्यालय से 8 किमी दूर ग्राम मनौद के रहने वाले चिन्मय ठाकुर भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बन गए हैं। चिन्मय शनिवार को भारतीय सैन्य अकादमी आईएमए में पास आउट किया। अब ये सैन्य अफसर लेफ्टिनेंट के रूप में लद्दाख में अपनी सेवाएं देंगे। चिन्मय भोरमदेव सहकारी शक्कर उत्पादक कारखाना कवर्धा के प्रबंध संचालक भूपेन्द्र ठाकुर के बेटे हैं।वहीं पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष देवलाल ठाकुर के भांजे हैं।श्री देवलाल ने बताया कि चिन्मय बचपन से ही भारतीय सेना में अधिकारी बनना चाह रहा था, अपनी जिद से उन्होंने यह मुकाम हासिल किया है। उनकी प्रारंभिक शिक्षा अम्बिकापुर के सैनिक स्कूल में हुई।

Advertisement


बेस्ट कैडेट अवार्ड से नवाजे जाने के बाद उनका चयन एनडीए में हुआ। तीन साल तक राष्ट्रीय सुरक्षा अकादमी के बाद एक वर्ष इंडियन मिलिट्री अकादमी में कड़ा प्रशिक्षण लिया। अब वह सेना के अधिकारी बन चुके हैं।

Advertisement

छत्तीसगढ़ से पांच युवा ‘इंडियन मिलिट्री अकादमी देहरादून’ से कमीशन्ड प्राप्त कर सैन्य अधिकारी बनकर देश की सेवा के लिए तैयार है. जिसमें जांजगीर से सौरभ कपूर, कवर्धा से चिन्मय ठाकुर, रायपुर से कुशाग्र गर्ग, कांकेर से धनन्जय साहू और भिलाई से प्रिंस बत्रा शामिल है.

Advertisement

बता दें कि देहरादून इंडियन मिलिट्री एकेडमी की स्प्रिंग पासिंग आउट परेड में भारत के 331 कैडेट्स पास आउट हुए हैं. इनमें सबसे ज्यादा 63 कैडेट्स उत्तर प्रदेश से हैं. इसके अलावा बिहार के 33, हरियाणा 32, महाराष्ट्र 26, उत्तराखंड 25, पंजाब 23, मध्यप्रदेश 19, राजस्थान 19, हिमाचल प्रदेश 17, दिल्ली 12, कर्नाटक 11, झारखंड 8, तमिलनाडु 8, जम्मू कश्मीर 6, छत्तीसगढ़ 5, केरल 5, तेलंगाना 3, पश्चिम बंगाल 3, गुजरात 2, नेपाल मूल (भारतीय सेना) 2, त्रिपुरा, आंध्र प्रदेश, असम, चंडीगढ़, गोवा, मणिपुर, ओडिसा व पांडिचेरी से एक-एक कैडेट भारतीय सेना का हिस्सा बनेंगे

Advertisement
Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button