देश

NCP नेता अजित पवार बने महाराष्ट्र के वित्तमंत्री….8 अन्य मंत्रियों को भी मिले मंत्रालय


(शशि कोन्हेर) : महाराष्ट्र की सरकार में अजित पवार गुट को कौन से विभाग मिलेंगे? इस सवाल का जवाब लंबे मंथन के बाद तलाश लिया गया है और विभागों का बंटवारा हो चुका है। अजित पवार को उनकी मांग के मुताबिक वित्त और योजना विभाग मिल गया है। इसके अलावा वरिष्ठ नेता छगन भुजबल को खाद्य आपूर्ति विभाग मिल गया है। धर्मराव बाबा अतराम को ड्रग ऐंड एडमिनिस्ट्रेशन विभाग मिला है। सहकारिता विभाग अजित पवार के बेहद करीबी दिलीप वलसे पाटिल को मिल गया है।

Advertisement

धनंजय मुंडे को कृषि मंत्रालय मिला है। हसन मुशरिफ को मेडिकल शिक्षा विभाग मिला है। अनिल पाटिल के खाते में आपदा प्रबंधन और पुनर्विकास विभाग आ गया है। अदिति तटकरे को महिला एवं बाल विकास मिनिस्ट्री मिल गई है। वहीं संजय बंसोडे को खेल एवं युवा मामले मंत्रालय सौंपा गया है। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के ओएसडी ने राज्यपाल से मुलाकात कर मंत्रियों को मिले विभागों की सूची दी थी।

Advertisement

अहम बात है कि अजित पवार को वित्त मंत्रालय ही मिल गया है, जिसकी मांग वह कर रहे थे और शिवसेना खिलाफ थी। अजित पवार ने कहा कि हम सरकार का हिस्सा हैं और जो भी मंत्रालय मिलेंगे, हम उसमें खुशी से काम करेंगे। हमारी ऐसी कोई मांग नहीं है कि यह मिले या फिर कुछ और।

Advertisement

देखें, किस नेता को मिला कौन सा विभाग

वित्त – अजित पवार

कृषि – धनंजय मुंडे

सहकारिता- दिलीप वलसे पाटिल

चिकित्सा शिक्षा – हसन मुश्रीफ

Advertisement

नागरिक आपूर्ति – छगन भुजबल

Advertisement

खाद्य एवं औषधि प्रशासन- धर्मराव अत्राम

खेल एवं युवा मामले – अनिल भाईदास पाटिल

महिला एवं बाल कल्याण – अदिति तटकरे

अजित पवार समेत एनसीपी के कुल 9 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ 9 जुलाई को ली थी। इस घटनाक्रम के बाद ठीक एक साल बाद महाराष्ट्र की राजनीति में फिर से भूचाल आ गया था। इससे पहले एकनाथ शिंदे ने 2022 में इसी तरह उद्धव ठाकरे की शिवसेना से बगावत की थी और फिर भाजपा के साथ मिलकर सरकार बना ली। उनकी तरह ही अजित पवार ने बगावत की है और एनसीपी पर भी दावा ठोकते हुए चुनाव आयोग में अर्जी दाखिल की है। फिलहाल सभी की नजर इसी बात पर है कि अजित पवार गुट के किस नेता को कौन सा विभाग मिलता है। चर्चा इस बात की भी है कि शिवसेना और भाजपा के कुछ मंत्रियों के विभाग भी बदल सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button