play-sharp-fill
मुंगेली

ध्वजारोहण के वक्त भावुक हो गए नगरपालिका अध्यक्ष…..

(मोहम्मद अलीम) : मुंगेली नगरपालिका के अध्यक्ष हेमेन्द्र गोस्वामी गणतंत्र दिवस के अवसर पर आयेजित कार्यक्रम में उस वक्त भावुक हो गए जब वे झंडा फहराने नगर के उस स्कूल में पहुँचे थे जहां कभी वे स्टूडेंट हुआ करते थे..इस तरह का वास्तविक संयोग बहुत कम ही देखने को मिलता है जब कोई प्रमुख पदों पर आसीन निर्वाचित नेता या जनप्रतिनिधि मुख्य अतिथि के रूप में ऐसे जगह पहुँच जाते है जहाँ कभी वे छात्र के रूप में उस स्थान पर पढाई किये रहते हैं.. कुछ ऐसा ही वाक्या मुंगेली नगर के प्रथम नागरिक यानी नगरपालिका अध्यक्ष हेमेन्द्र गोस्वामी के साथ हुआ दरअसल वे शहर के शासकीय नगर पालिका स्कूल में ध्वजारोहण करने बतौर मुख्य अतिथि के रूप में पहुँचे थे..इस दौरान झंडारोहण करने के बाद सम्बोधित करते हुए हेमेन्द्र गोस्वामी ने बताया कि ये वही स्कूल है जहां वे कभी छात्र के रूप में पढ़ाई करते थे .पहली से लेकर ग्यारवीं तक कि पढ़ाई उनकी यही हुई है..जिसके बाद 12 वी दूसरी जगह व ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई एसएनजी कॉलेज से किया है यही वजह है कि आज भी वे इन विद्यालयों में और यहां के शिक्षकों के लिए जनप्रतिनिधि की बजाय एक स्टूडेंट के रूप में ही यहाँ अपने आप को पाते है..उनका कहना है कि आज वे जिस मुकाम पर है यहां के शिक्षकों के ही बदौलत है। यहां पढ़ाने वाले गुरुजन और यहां के वातावरण ने आज उन्हें इस काबिल बनाया कि आज उसी जगह में मुख्य अतिथि के रूप में पहुँचे है.इसके लिए वे अपने गुरुजनों को श्रेय देते हुए उनका अभिवादन भी करते है..इस दौरान हेमेन्द्र गोस्वामी अपनी पढ़ाई काल के दिनों को याद करते हुए बताते है कि एक समय था जब वे स्टूडेंट के रूप में उस समय के जनप्रतिनिधियों को झंडारोहण करते हुए देखकर सोंचते थे कि काश उन्हें भी ऐसा अवसर प्राप्त हो..,और वह समय आखिरकार आ ही गया.जिसका उन्हें बरसो से इंतजार था..नगरपालिका अध्यक्ष हेमेन्द्र गोस्वामी यहाँ से जुड़ी अपनी स्कूली जीवन की बातों के जिक्र करते हुए भावुक भी हो गए..

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button