देश

मां काली पोस्टर विवाद में महुआ मोइत्रा की बड़ी अड़चनें…मामले हुए दर्ज… टीएमसी ने किया किनारा

(शशि कोन्हेर) : निर्देशक लीना मणिमेकलाई की डॉक्युमेंट्री ‘काली’ के पोस्टर पर विवाद खड़ा हो गया है। पोस्टर में मां काली के अवतार में एक्ट्रेस को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है और दूसरे हाथ में उन्होंने एलजीबीटीक्यू का झंडा पकड़ा है, जिस वजह से लीना की चौतरफा आलोचना हो रही है।

Advertisement

इस मामले पर राजनेताओं से लेकर सिनेमा जगत से जुड़े लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। वहीं, अब डॉक्युमेंट्री ‘काली’ के आपत्तिजनक पोस्टर पर अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा का बयान सामने आया है।

Advertisement

सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा, “मेरे लिए काली, मांस खाने वाली, शराब स्वीकार करने वाली देवी है। आपको अपनी देवी की कल्पना करने की स्वतंत्रता है। कुछ स्थान हैं जहां देवताओं को व्हिस्की की पेशकश की जाती है, वहीं कुछ जगहों पर यह ईश-निंदा होगी।”

Advertisement

मोइत्रा ने आगे कहा…


माेइत्रा आगे कहती हैं, “जब आप सिक्किम जाते हैं, तो आप देखेंगे कि वहां के लोग काली मां को व्हिस्की का भोग लगाते हैं। लेकिन अगर आप उत्तर प्रदेश जाएंगे और वहां यदि आप उनसे कहेंगे कि आप देवी को ‘प्रसाद’ के रूप में व्हिस्की चढ़ाएंगे तो वह इसे ईशनिंदा कहेंगे।”

दो जगह दर्ज हुई एफआईआर


महुआ मोइत्रा का यह बयान उस वक्त सामने आया है जब पूरे देश में लीना की डॉक्युमेंट्री ‘काली’ के एक पोस्टर पर बवाल मचा हुआ है। जी हां, सोशल मीडिया पर लोग मेकर्स की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। वहीं दिल्ली और उत्तर प्रदेश पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली है।

यूपी पुलिस ने हिंदू देवी-देवताओं के अपमानजनक चित्रण के लिए फिल्म ‘काली’ की निर्माता लीना मणिमेकलाई के खिलाफ आपराधिक साजिश, पूजा स्थल पर अपराध, जानबूझकर धार्मिक भावनाओं को आहत करने के इरादे से शांति भंग करने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की। वहीं दिल्ली पुलिस की IFSO इकाई ने काली फिल्म से संबंधित एक विवादास्पद पोस्टर के संबंध में IPC की धारा 153A और 295A के तहत प्राथमिकी दर्ज की है।

Advertisement

मैंने पोस्टर का समर्थन नहीं किया: महुआ

Advertisement


वहीं, अब महुआ मोइत्रा ने कहा है कि आप सभी संघियों के लिए झूठ बोलना आपको बेहतर हिंदू नहीं बना देगा. मैंने कभी किसी फिल्म या पोस्टर का समर्थन नहीं किया. ना ही धूम्रपान शब्द का उल्लेख किया. मेरा एक सुझाव है. आप तारापीठ में मेरी मां काली के पास जाएं, यह देखने के लिए कि भोग के रूप में क्या खाना-पीना दिया जाता है. जय मां तारा.

टीएमसी हमेशा हिंदू धर्म का अपमान करती: सुवेंदु अधिकारी
वहीं, महुआ मोइत्रा के बयान पर बीजेपी ने हमला बोला है. नेता विपक्ष सुवेंदु अधिकारी ने कहा कह टीएमसी हमेशा हिंदू धर्म का अपमान करती है. हम कानूनी उपायों का विकल्प चुनेंगे और ममता बनर्जी से महुआ मोइत्रा के खिलाफ कार्रवाई करने की उम्मीद करेंगे. हमारी सरकार ने नूपुर शर्मा के खिलाफ कार्रवाई की थी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button