play-sharp-fill
देश

भारी बारिश से इस राज्य में जनजीवन अस्त-व्यस्त, स्कूल-कॉलेज हुए बंद…….

Advertisement

भारत के कुछ राज्यों में बारिश ने लोगो का जीना मुहाल कर दिया है। तमिलनाडु में चेन्नई जिले के कुछ हिस्सों में गुरुवार को भी भारी बारिश जारी रहने से सामान्य जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। भारी बारिश के चलते निचले इलाकों में जलभराव हो गया। जिससे यातायात भी प्रतिबंध हुआ। जिससे स्कूल और कॉलेज बंद रहे।

Advertisement

शहर में में चेन्नई के कोयम्बेडु क्षेत्र में मूसलाधार बारिश के बीच लोगों को अपनी रोजमर्रा कामों को करते हुए दिखा रहे हैं। लोग रेनकोट पहने और छाते का सहारा लेकर बारिश के पानी से भीगी हुई सड़कों से गुजर रहे हैं। इससे पहले, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने चेन्नई में कमांड कंट्रोल सेंटर की व्यवस्थाओं की समीक्षा करने के लिए रिपन बिल्डिंग का दौरा किया, जहां राज्य में बारिश की स्थिति पर नजर रखी जा रही है।

Advertisement

झील से छोड़ा गया 389 क्यूसेक पानी
मुख्यमंत्री ने 1913 हेल्पलाइन पर निवासियों के कॉल का भी जवाब दिया और अधिकारियों को बिना किसी देरी के शिकायतों के निवारण के लिए विभागों के बीच समन्वय में सुधार करने का निर्देश दिया। इस बीच, क्षेत्र में लगातार बारिश के कारण पुझल झील, जिसे रेड हिल्स झील के नाम से भी जाना जाता है, अपनी पूरी क्षमता तक पहुंच गई। झील से करीब 389 क्यूसेक पानी छोड़ा गया।

इससे पहले, कांचीपुरम जिला प्रशासन ने भी गुरुवार सुबह 8 बजे से चेम्बरमबक्कम झील से पानी की निकासी 2500 क्यूसेक से बढ़ाकर 6000 क्यूसेक करने की घोषणा की। तमिलनाडु में लगातार बारिश होने के कारण पानी का प्रवाह लगभग 3000 क्यूसेक है और इसका बढ़ना तय है। झील का जल भंडारण 24 फीट की क्षमता के मुकाबले बढ़कर 22.53 फीट हो गया है। दो और तीन दिसंबर के लिए अलर्ट जारी

लगातार बारिश के कारण चेन्नई में स्कूल भी बंद हैं। बारिश के कारण शहर के कई इलाकों में जलभराव हो गया है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने 2 और 3 दिसंबर को चेन्नई और उसके पड़ोसी जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है, जिसमें भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना जताई गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button