बिलासपुर

आईजी के जनदर्शन में मिला न्याय, सगी भतीजी के साथ धोखाधड़ी करने वाले फूफा के खिलाफ मामला दर्ज…..

Advertisement

(आशीष मौर्य) : बिलासपुर – साहब मेरे सगे फूफा जी ने मेरे साथ धोखाधड़ी की है,साहब मेरी बूढ़ी माँ सरोज कश्यप ने अपना एफडी तोड़वाकर आर्थिक मदद की थी,मंगलवार को आईजी रतन लाल डांगी के जनदर्शन में महिला ने न्याय की गुहार लगाई,किये गए शिकायत के अवलोकन के बाद प्रथम दृष्टया धोखाधड़ी का अपराध पाए जाने पर आईजी ने तत्काल जमीन के पवार होल्डर राकेश चंद्र देवांगन और जमीन दलाल सगे फूफा सोहन लाल कश्यप के खिलाफ सिविल लाइन पुलिस ने 420 का मामला दर्ज किया।पीड़िता पूजा कश्यप ने बताया कि वर्ष 2019 में मकान बनाने के लिए जमीन की जरूरत थी,जिसकी चर्चा उसने सगे फूफा सोहन लाल कश्यप पिता शिव चरण कश्यप निवासी चटीडीह रामायण चौक मुन्ना बाड़ी के सामने की थी,फूफा सोहन कश्यप ने डीएलएस कॉलेज के पीछे तालाब के बगल से ग्राम खमतराई पटवारी हल्का 17/25 खसरा नम्बर 561/37 में से 1308 वर्ग फुट जमीन दिखाया, फूफा ने बताया कि यह जमीन किसी विवेक सरकार की है जिसका पवार होल्डर जूनापारा निवासी राकेश चंद्र देवांगन पिता स्व चंद्र लाल देवांगन है,उन्होंने पीड़िता को विशवास दिलाया कि जमीन बहुत अच्छी है और वह जमीन के सभी दस्तावेज देख चुका है सब ठीक है,मैं अपने फूफा सोहन लाल कश्यप के बातो में आ गयी और विश्वास करके जमीन को एक ही बार अपने पति के साथ देखने गयी,मेरे फूफा जमीन की रजिस्ट्री तुरंत करा लो बहुत ग्राहक है नही तो नही मिलेगी बोलकर जमीन रजिस्ट्री कराने तैयार किये।मेरे पति ने फूफा जी से कहा कि जमीन का सीमांकन कराकर रजिस्ट्री करते है तो उन्होंने कहा कि जब रजिस्ट्री हो जाएगी उसके तुरत बाद रिकॉर्ड में नाम दुरुस्त के बाद मेरे नाम से सीमांकन करा देंगे,मैं फूफा के बातो में आकर राकेश चंद्र देवांगन से मिली,चूंकि जमीन की कीमत 6 लाख 50 हजार थी,हमको पक्के में 3 लाख 90 और 2 लाख 60 हजार कच्चे में देने सौदा हुआ।मेरे पास पैसे नही थे मेरी माँ सरोज कश्यप निवासी मनोहर टाकीज के पास से एफडी तोड़वाकर और मेरे पास कुछ पैसे थे और इधर उधर ले लेकर हमने जमीन की रजिस्ट्री के लिए पैसा इक्कट्ठा किया,मेरी माँ के घर से जाकर 2 लाख 60 हजार किश्तो में मेरे फूफा सोहन कश्यप और राकेश देवांगन लेकर गए, 26 अगस्त 2019 को रजिस्ट्री की तिथि तय की गई उस दिन मैंने छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण बैंक शाखा गांघी चौक का चेक क्रमांक 645562 के मध्याम से 3 लाख 90 हजार रुपये जमीन रजिस्ट्री का पैसा दिया।उसके बाद  साल भर जमीन देखने नही गयी,कोरोना के कारण और समय बीत गया,2021 में जब मैं अपने बेटे के साथ जमीन देखने गयी तो वहाँ लोग आ गए और विवाद करने लगे,और बोले कि राकेश चन्द देवांगन और सोहन  ने आपको दूसरे की जमीन दिखाकर अपनी बोलकर जमीन की रजिस्ट्री कर दिया है,इस बात से घबराकर हम अपने फूफा सोहन लाल कश्यप से मिले की आपके बातो पर विश्वास करके हमने वह जमीन लिया और आप लोगो ने हमारे साथ धोखाधड़ी की,तो मेरे फूफा बोले कि सीमांकन कराकर देता हूं,वह लगातार सीमांकन के लिए भी घूमते रहे, बाद में उन्होंने अपनी गलती स्वीकार की।मामले की जांच के बाद सीविल लाइन पुलिस ने आरोपी जमीन होल्डर राकेश चंद्र देवांगन और फूफा सोहन कश्यप के खिलाफ 420 का मामला दर्ज किया।

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button