देश

भारत ने 18 महीने में बनाया 200 करोड़ वैक्सीन डोज का कीर्तिमान

(शशि कोन्हेर) : देश में कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग के बीच अब तक कोरोना टीकाकरण अभियान के तहत वैक्सीन की 200 करोड़ से अधिक डोज लगाई जा चुकी है। यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने रविवार को दी। इस उपलब्धि के लिए उन्होंने देश के हेल्थकेयर वर्कर्स और लोगों को बधाई दी है।

Advertisement

भारत ने 200 करोड़ वैक्सीन का लक्ष्य हासिल कर लिया है। भारत जैसे देश में ये लक्ष्य आसान नहीं था मगर बेहतर मैनेजमेंट से ये लक्ष्य हासिल किया। पिछले साल 16 जनवरी को कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान शुरू हुआ था। कोविन पोर्टल मुताबिक, भारत रविवार को दोपहर करीब 12 बजे कोरोना टीकाकरण के 200 करोड़ डोज के लक्ष्य को पूरा किया।

Advertisement

बता दें कि वैक्सीनेशन के मामले में चीन के बाद भारत दूसरे स्थान पर है। इसके साथ ही भारत कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सबसे सुरक्षित देशों की लिस्ट में शामिल हो गया है। देश में जनवरी 2021 में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू हुआ था। 18 महीनों में भारत ने 200 करोड़ वैक्सीन लगाकर इतिहास रच दिया।

Advertisement

केंद्र सरकार ने 15 जुलाई से ही 18 से 59 वर्ष आयुवर्ग के लोगों को सरकारी केंद्रों पर मुफ्त सतर्कता डोज लगाने का विशेष अभियान शुरू किया है। अभियान के पहले दिन करीब 15 लाख डोज लगाई गई। इनमें से ज्यादातर लोगों को 75 दिन के विशेष अभियान ‘कोरोना टीकाकरण अमृत महोत्सव’ के तहत डोज दी गई है।

मंत्रालय ने बताया कि 18 से 59 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को अब तक कुल 1.06 करोड़ सतर्कता डोज लगाई गई है। 60 वर्ष की आयु से अधिक के लोगों को टीके की 2.81 करोड़ डोज दी जा चुकी है। 12 से 14 वर्ष के 3.79 करोड़ बच्चों को पहली डोज दी जा चुकी है जबकि 15 से 18 आयु वर्ग के 6.08 करोड़ से अधिक किशोरों को पहली डोज लगाई जा चुकी है।

पिछले साल 16 जनवरी से शुरु हुआ था टीकाकरण अभियान
पिछले साल 16 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाने के साथ टीकाकरण अभियान के पहले चरण की शुरुआत हुई थी। उसी साल दो फरवरी से दूसरा चरण शुरू हुआ था, जिसमें फ्रंटलाइन वर्कर टीकाकरण अभियान में शामिल किया गया था। टीकाकरण का अगला चरण पिछले साल ही एक मार्च को शुरू हुआ था। इसमें 60 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों और 45 साल से अधिक उम्र के पहले से गंभीर बीमारी से ग्रस्त लोगों को टीका लगाना शुरू किया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button