देश

भारत तभी तक धर्मनिरपेक्ष है… जब तक यहां हिंदू बहुसंख्यक…शास्त्र के साथ शस्त्र भी उठाएं : राजा भैया

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : प्रतापगढ़ – जनसत्ता दल लोकतांत्रिक के राष्ट्रीय अध्यक्ष कुंडा विधायक रघुराज प्रताप सिंह राजा भैया ने कहा कि भारत तभी तक धर्मनिरपेक्ष देश है, जब तक हिंदु बाहुल्य है। वे किलहनापुर स्थित एक धार्मिक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान वे धार्मिक संदर्भ में बात करते हुए द कश्मीर फाइल्स फिल्म पर बोल पड़े। कहा कि 16 जनवरी 1990 में कश्मीर से पांच लाख हिंदुओं के विस्थापन की सच्चाई को इस फिल्म में दिखाया गया है, जो कुछ लोगों को बहुत खराब लग रही है। इस फिल्म के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।

Advertisement

कश्मीर में जनसंहार पर नहीं बोला कोई राजनीतिक दल

Advertisement

बहुत दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि कुछ लोग इस पर बात करने से भी कतराते हैं, हमारे हिंदु भाइयों के साथ कश्मीर में इतना बड़ा जनसंहार और अत्याचार हो गया, कोई राजनीतिक दल नहीं बोला, किसी एक चैनल ने इस बर्बरता को नहीं दिखाया, धर्माचार्य भी इस मामले में मौन धारण करके रह गए। अब वह लोग कह रहे हैं कि हिंदुओं की व्यथा को दिखाती हुई इस फिल्म को दिखाना बंद कर दें, क्यों। क्योंकि हमारे ऊपर जो बीता, उस पर बनी यह फिल्म सच्चाई बया कर रही है। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि इस जीवित संस्कृति को बचाने के लिए हमारा भी कोई दायित्व है कि नहीं, हम अपने बच्चों से कितनी धर्म के बारे में चर्चा करते हैं, हमें अपनी संस्कृति के प्रति कितने सचेत हैं। अब तक का इतिहास उठाकर देख लीजिए, सबसे अधिक विस्थापन हिंदुओं का हुआ, सबसे अधिक जनसंहार हिंदुओं का हुआ। याद रखिए, भारत तभी तक धर्म निरपेक्ष देश है, जब तक हिंदू बाहुल्य है। इतिहास से सबक लें, जो हमारे पु्रखों पर बीता है, वह हमारी अगली पीढ़ी ना झेले।

शास्त्र के साथ शस्त्र भी हिंदुओं को अपनाना होगा

रघुराज प्रताप ने अंत में यह संदेश दिया कि हिंदुओं को शास्त्र के साथ शस्त्र भी उठाना पड़ेगा। भगवान राम ने वन गमन के समय घर परिवार और राज पाठ सब कुछ छोड़ दिया लेकिन धनुष बाण नहीं छोड़ा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button