गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही

25 जुलाई से अनिश्चितकालीन हड़ताल : प्रतिमाह आर्थिक नुकसान से कर्मचारियों में बढ़ रहा आक्रोश…..

Advertisement

(सुहैल आलम) : गौरेला पेंड्रा मरवाही – छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन जिला गौरेला पेंड्रा मरवाही के जिला पदाधिकारियों ,महिला प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों, विकासखंड अध्यक्षो, संकुल पदाधिकारियों की प्रांतीय निर्देशानुसार 25 जुलाई से केंद्र के समान 34% महंगाई भत्ता एवं सातवें वेतनमान के आधार पर गृह भाड़ा भत्ता की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन आंदोलन के निर्णय पर प्रांतीय पदाधिकारी महिला प्रकोष्ठ श्रीमती दुर्गा गुप्ता की अध्यक्षता में ऑनलाइन मीटिंग हुई । प्रांतीय पदाधिकारी महिला प्रकोष्ठ श्रीमती दुर्गा गुप्ता ने कहा कि छत्तीसगढ़ ही एकमात्र ऐसा राज्य है जहां केवल 22% महंगाई भत्ता दिया जा रहा है और कर्मचारियों को छठवें वेतनमान के अनुरूप ग्राम भाड़ा भत्ता मिल रहा है जिसके कारण समस्त शासकीय कर्मचारियों को 4000 से 14 हजार रुपए प्रतिमाह की आर्थिक क्षति हो रही है। जिलाध्यक्ष मुकेश कोरी द्वारा अवगत कराया गया कि छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष संजय शर्मा द्वारा कर्मचारियों को लंबित 12% महंगाई भत्ता वह सातवें वेतनमान के आधार पर मकान भाड़ा भत्ता की मांग को लेकर निष्पक्ष बैनर व समान भूमिका के तहत अनिश्चितकालीन आंदोलन का आगाज किया गया है जिसमें अन्य कर्मचारी संगठनों शालेय शिक्षक संघ ,नवीन शिक्षक संघ, अधिकारी कर्मचारी संघ, शिक्षक महासंघ का समर्थन मिल रहा है जिसकी तैयारी अपने जिले में प्रशासन को सूचना देने के साथ आवेदन पत्र का प्रारूप भरकर जल्द ही सौंपने को कहा गया ,तथा सभी पदाधिकारियों को निर्देशित किया गया कि वह अपने विकास खंडों संकुलो में सभी शिक्षकों से संपर्क कर अवकाश हेतु आवेदन भरवाकर सक्षम अधिकारी को जमा करावे। जिसकी जिम्मेदारी संजय नामदेव विकासखंड अध्यक्ष गौरेला, तरुण नामदेव विकासखंड अध्यक्ष मरवाही, राकेश चौधरी विकासखंड अध्यक्ष पेंड्रा को दिया गया।
प्रदेश में केंद्र के समान 34% महंगाई भत्ता प्रदान करने वह सातवें वेतनमान के अनुरूप मकान भाड़ा भत्ता की मांग को लेकर समस्त कर्मचारियों में सरकार के प्रति गहरा आक्रोश है इसलिए बड़ी संख्या में शिक्षक व कर्मचारियों द्वारा अनिश्चितकालीन हड़ताल हेतु सूचना अधिकारी व कार्यालय को दिया जा रहा है कब कर्मचारी आक्रामक हड़ताल कर अपना संपूर्ण लंबित DA व HRAलेना चाहते हैं।

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button