छत्तीसगढ़

विधानसभा चुनाव को लेकर आईजी ने ली दो रेंज के अधिकारियों की बैठक, वीआईपी सुरक्षा को लेकर दिए निर्देश

Advertisement

(आशीष मौर्य) : आगामी दिनों में होने वाले वृहद स्तर पर व्ही.व्ही.आई.पी./व्ही.आई.पी. प्रवास की संभावना को ध्यान मे रखते हुए पुलिस महानिरीक्षक श्री अजय कुमार यादव द्वारा दिनांक 13.10.2023 को बिलासपुर रेंज एवं सरगुजा रेंज के उप निरीक्षक से लेकर आरक्षक स्तर के अधिकारी/कर्मचारियों की एक दिवसीय व्ही.व्ही.आई.पी./व्ही.आई.पी. सुरक्षा पी.एस.ओ. प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन स्थानीय जल संसाधन परिसर प्रार्थनासभा भवन बिलासपुर मे आयोजित किया गया ।

Advertisement

इस प्रशिक्षण कार्यशाला में सरगुजा रेंज के जिलों से 97 तथा बिलासपुर रेंज के जिलों से 163 उप निरीक्षक से आरक्षक स्तर प्रशिक्षणार्थी उपस्थित रहे।

Advertisement


प्रशिक्षण कार्यशाला के प्रारंभिक उद्बबोधन में श्री एम.एल.कोटवानी, सहायक पुलिस महानिरीक्षक, सुरक्षा, पुलिस मुख्यालय रायपुर द्वारा कहा गया कि व्ही.आई.पी. सुरक्षा एक महत्वपूर्ण विषय है जिसकी जानकारी जिला पुलिस बल के अधिकारी/कर्मचारियों को होना अत्यंत आवश्यक है, व्हीआईपी सुरक्षा व्यवस्था में संलग्न सभी अधिकारियों को अपना 100 प्रतिशत देना आवश्यक है, इसमें 01 प्रतिशत भी गलती की गुंजाईश नही होती, सुरक्षा व्यवस्था में चुक क्षम्य नही होना बताया गया।

उन्होंने कहा कि सुरक्षा का कार्यक्षेत्र विस्तृत है जिसके हर पहलूओं को एक दिन की इस कार्यशाला मे रखने की कोशिश की जायेगी। आगामी चुनाव को देखते हुए उपस्थित अधिकारी/कर्मचारियों से प्रशिक्षण के दौरान दी गई जानकारी को आत्मसात कर आगामी दिनों में कर्तव्य के दौरान पुलिस बल में अपनी व्यवसायिक दक्षता का परिचय देने कहा गया ।


पुलिस महानिरीक्षक श्री अजय यादव द्वारा प्रशिक्षण सत्र का परिचय देते हुए उपस्थित प्रशिक्षणार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा गया कि कानून व्यवस्था ड्यूटी, अपराधों की रोकथाम एवं अन्य सुरक्षा व्यवस्था ड्यूटियों के अलावा व्ही.आई.पी. सुरक्षा ड्यूटी भी जिला पुलिस का एक महत्वपूर्ण अंग है, इस विषय को पूर्ण रूपेण समझना आवश्यक है, आगामी दिनों में चुनाव के दौरान व्ही.व्ही.आई.पी./व्ही.आई.पी. प्रवास के समय जिले में उपलब्ध बल के द्वारा ही सुरक्षा व्यवस्था का प्रबंधन किया जायेगा, इसलिए कार्यशाला में दिये गये प्रशिक्षण को ध्यान से सीखने कहा गया।

पी.एस.ओ. ड्यूटी में साफ-सुथरी वार्दी, अनुशासन, आत्मविश्वास तथा सतर्क रहने जैसे गुण पी.एस.ओ. में होना आवश्यक है, इससे पुलिस विभाग की छवि पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। उन्होंने कहा कि पी.एस.ओ. ड्यूटी में संलग्न अधिकारी को सदैव रिस्क लेने हेतु तत्पर रहना चाहिए। श्री यादव द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण के दौरान उत्पन्न होने वाले डाउट्स को प्रश्नउत्तर के माध्यम से स्पष्ट करने सुझाव दिया गया ।
उपरोक्त प्रशिक्षण में श्री एम.एल.कोटवानी, सहायक पुलिस महानिरीक्षक, सुरक्षा द्वारा व्ही.व्ही.आई.पी, व्ही.आई.पी. सुरक्षा, सुरक्षा श्रेणियां, निर्धारत तत्व संबंधित निर्देश, व्ही.आई.पी. सुरक्षा के सिद्धांत, आपातकालीन उपबंध, आमसभा, मंच, हेलीपेड, मार्ग व्यवस्था, हाईराईज, कैम्प व्यवस्था आदि विषय पर क्लास ली गई । श्री निशांत शर्मा, उप पुलिस अधीक्षक व्ही.आई.पी. सुरक्षा द्वारा मोटर केड, एस्कार्ड अधिकारी, पायलेट अधिकारी इत्यादि विषय पर प्रशिक्षण दिया गया । श्री गुरूनारायण प्रधान उप पुलिस अधीक्षक विशेष शाखा पु.मु. रायपुर द्वारा एण्टीसेबोटाज चेक व उसमे लगने वाले उपकरणों के संबंध में जानकारी दी गई तथा श्री जयंतपाल, पी.सी. व्ही.आई.पी. सुरक्षा रायपुर द्वारा पी.एस.ओ. की परिभाषा, उद्देश्य, सामान्य व्यवहार, कर्तव्य, वेशभूषा, महत्व इत्यादि विषय पर डेमो के माध्यम से प्रशिक्षण दिया गया।  प्रशिक्षण के दौरान श्रीमती मंजूलता केरकट्टा, उप पुलिस अधीक्षक, लाईन, बिलासपुर, श्रीमती सुशीला टेकाम, उप पुलिस अधीक्षक, कार्यालय पुलिस महानिरीक्षक, बिलासपुर प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button