बिलासपुर

VIDEO – हुंकार रैली : किसकी अनुमति से खड़ी हुई पुलिस मैदान में बसें और गाड़िया, अधिकारियों की फटकार के बाद आनन-फानन में खाली कराया गया मैदान

Advertisement

(आशीष मौर्य के साथ सुशांत सिंह ठाकुर) : बिलासपुर – विधानसभा चुनाव करीब है, लिहाजा भाजपा ने राज्य सरकार के खिलाफ हल्ला बोल दिया है. हुंकार रैली में शामिल होने प्रदेशभर से भाजपा कार्यकर्ता बिलासपुर में जुटे , रैली में भीड़ को लाने करीब 3 सौ से अधिक बसें और गाड़िया शहर पहुंची. नेहरू चौक कार्यक्रम स्थल के करीब पुलिस ग्राउंड में बिना अनुमति के बसों को खड़ा करा दिया गया, इसके कारण पुलिस मैदान बस और लोगो की भीड़ से भर गया. अति संवेदनशील माने वाले पुलिस मैदान मे किसी भी आयोजन के लिए पुलिस महानिरीक्षक से अनुमति ली जाती है. लेकिन बसों को खड़ा करने के लिए कोई भी अनुमति नहीं ली गयी थी.

Advertisement

राज्य शासन के खिलाफ हल्ला बोलने पहुचे लोगो को लाने उपयोग में लाई गई बसे पुलिस मैदान में खड़े होने की जानकारी जैसे ही पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को लगी, उन्होंने इसकी जानकारी संबंधित पुलिस अधिकारियों से ली. बताया जा रहा है कि पुलिस मैदान का मुख्य गेट पहले से ही खुला हुआ था. इसके कारण वहां बसें और छोटी गाड़ियां खड़ी हुई. रक्षित केंद्र के अधीन इस पुलिस मैदान में सुबह से ही गाड़ियां खड़ी हो रही थी, जिसकी जानकारी आर आई घनेन्द्र ध्रुव को थी. लेकिन उसके बावजूद दोपहर 2 बजे तक मैदान मे बे रोक-टोक गाड़ियां खड़ी होती रही.अधिकारियो के फटकार के बाद तत्काल पुलिस मैदान खाली कराया गया.

Advertisement

कवरेज के दौरान आरआई ने छीना कैमरा :- वरिष्ठ अधिकारियों के बिना अनुमति के पुलिस मैदान में खड़ी की गई बसें और गाड़ियों का कवरेज के दौरान आरआई घनेन्द्र ध्रुव ने कैमरामेन से कैमरा छीन लिया. और कवरेज क्यों कर रहे हो कहते हुए मैदान से बाहर जाने कहा. अपनी नाकामी को छुपाने आरआई ने सभी बसों और गाड़ियों को आनन फानन मे बाहर निकलवाया. जिसके कारण सड़के जाम हो गयी.

आईजी और एसएसपी से हुई घटना की शिकायत :- मीडयाकर्मी का कैमरा छीनने की घटना की शिकायत आईजी रतनलाल डांगी और एसएसपी पारुल माथुर से हुई है. अधिकारियो ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जानकारी लेने की बात कही है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button