छत्तीसगढ़बिलासपुर

लायंस और चेस एसोसिएशन की शतरंज स्पर्धा में सौ प्रतियोगियों ने लिया भाग

(शशि कोन्हेर) : बिलासपुर डिस्ट्रिक्ट चेस एसोसिएशन एवं बिलासपुर लायंस क्लब के संयुक्त तत्वावधान में आज एक दिवसीय  राज्य स्तरीय पहले बिलासपुर जी एन एस कप का आयोजन किया गया ।बिलासपुर चेस एसोसिएशन  छत्तीसगढ़ चेस एसोसिएशन की ही शाखा है।

Advertisement

इस राज्यस्तरीय प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ के विभिंन शहरों से प्रतिभागियों ने भाग लिया।
लगभग 100 प्रतियोगियों के शानदार रजिस्ट्रेशन के साथ सी एम डी स्थित लायंस भवन में यह प्रतियोगिता का शुभारम्भ हुई।

Advertisement

कार्यक्रम के मुख्य अथिति लायन गुरदीप सिंह आजमानी थे। जो की पूर्व में चेस के नैशनल चैम्पियन रहे है ।
साथ ही कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि के रूप में कार्यक्रम के  प्रायोजक  तक्षशिला कोचिंग के निर्देशक श्री कपिल अग्रवाल मौजूद थे।

Advertisement


कार्यक्रम के सह आयोजक बिलासपुर लायंस क्लब से उनके अध्यक्ष लायन परमजीत सिंह सलूजा, सचिव सी ए रौनक़ अग्रवाल, कोषाध्यक्ष हरभजन सिंह गंभीर, पूर्व अध्यक्ष लायन अरविंद दीक्षित, लायन अमरजीत सिंह दुआ, लायन डॉक्टर अरुण शुक्ला  लायन एन के भंडारी लायन देवेंद्र  टुटेजा, लायन जसपाल  सिंह आनंद एवं अन्य लायन सदस्य मौजूद थे।


बिलासपुर डिस्ट्रिक्ट चेस एसोसिएशन के अध्यक्ष सी ए नवीन कुमार अग्रवाल ने बताया की यह राज्य स्तरीय प्रतियोगिता अपने आप में ख़ास है, इसमे बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सभी उम्र के प्रतियोगी शामिल हुए है, महिलाओं एवं वरिष्ट नागरिकों को प्रोत्साहित करने के लिए विशेष ईनाम रखा गया है। सभी विजेताओं के लिए ट्रोफ़ी के साथ कैश प्राइज़ भी रखें गए। राज्य स्तरीय कार्यक्रम के कारण हमारे ओरबिटर भी बाहर से आए थे। दुर्ग से श्रीमान रॉकी देवांगन एवं मुंगेली से श्रीमान ओम् प्रकाश जी थे।
उन्होंने बताया कि कार्यक्रम को सफल बनाने का श्रय उनके सचिव विक्रांत कक्कड़, कोषाध्यक्ष सी ए अर्जुन अग्रवाल, सी ए पवन अग्रवाल, अमित दुबे, रोहित रजक, अनुभव पटेल, राजू साहू, संदीप मिश्रा, हर्ष साहू, विशाल अग्रवाल, अभिषेक सिंह को भी जाता है।
मुख्य अथिति ने अपने शतरंज से जुड़ी यादें एवं भावनायें साझा कीं।उन्होंने बताया कि किस तरह से वे अपने समय में राज्य एवं राष्ट्रीय प्रतियोगिता में शामिल होते थे। उन्होंने सभी प्रतियोगियों का मनोबल बढ़ाया एवं अपनी तरफ़ से हर विजेता को अतिरिक्त धन राशि का ईनाम घोषित किया। 

संध्या समापन में सभी विजेताओं को ईनाम की धनराशि, मोमेंटो एवं प्रशस्ति पत्र से नवाज़ा गया। सभी  आगंतुकों का धन्यवाद दिया गया और आश्वस्त किया गया कि भविष्य में भी इस तरह के अवसर लाए जाएँगे और प्रतियोगियों से सहभागिता का अनुरोध किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button