बिलासपुर

विशाल बिलासा नारी चेतना सम्मेलन का आयोजन….

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : बिलासपुर – समाज के विभिन्न संगठनों, विभिन्न क्षेत्रों तथा एनजीओ इत्यादि में कार्य करने वाली बहनो को लेकर महिला समन्वय विभाग बिलासपुर के द्वारा बिलासा नारी चेतना सम्मेलन का आयोजन 20 अगस्त 2023 को कृष्णा मॉल में किया गया। सम्मेलन में पेंड्रा, गौरेला, मरवाही, मुंगेली, लोरमी, पथरिया, रतनपुर, बिल्हा, कोटा, मस्तूरी आदि की बहने सम्मिलित हुई जो करीब 92 संगठनों में सक्रिय है।

Advertisement

समाज में जागृत बहने जो विभिन्न क्षेत्रों में सक्रिय है कार्य कर रही हैं अपना योगदान दे रही हैं वह सब एक साथ संगठित हो, उनका आपस में जुड़ाव हो तथा उनके बीच आपस में समन्वय स्थापित हो तथा वह बहने जो अभी सक्रिय नहीं है उनको सक्रिय करना जागृत करना समाज और देश के लिए योगदान करने के लिए प्रेरित करना तथा सभी बहने संगठित होकर अपनी ताकत क्षमता को इतनी बढ़ाऐ कि कभी भी देश में समाज में कोई भी चुनौती आए उसका सामना कर सके, उसका मुकाबला डटकर कर सकें करें। इसी मुख्य उद्देश्य को लेकर इस सम्मेलन का आयोजन किया गया।

Advertisement

सम्मेलन तीन सत्रों में था। पहले सत्र में भारतीय चिंतन में महिलाएं विषय पर सुश्री शोभा पैठनकर क्षेत्र संयोजिका महिला समन्वय ने उद्बोधन दिया।


उसके बाद स्थानीय महिलाओं की स्थिति पर प्रश्न और समाधान पर बहनों के साथ 4 समूहों में चर्चा हुई। श्रीमती नीलांबरी दवे, श्रीमती वर्णिका शर्मा, श्रीमती शताब्दी पांडे, सुश्री मंजू दीदी ने चर्चा सत्र मैं चर्चा की। तीसरे सत्र में भारत के विकास में महिलाओं की भूमिका विषय पर राष्ट्र सेविका समिति की सह सरकार्यवाह सुश्री सुलभा देशपांडे ने अपने विचार रखे। श्रीमती नीलांबरी दवे पूर्व कुलपति एवं श्रीमती मीनाक्षी टुटेजा सत्र की मुख्य अतिथि थीं। समाज सेविका श्रीमती अनुसूया उइके विशिष्ट अतिथि के रूप में थी।

श्रीमती रश्मि द्विवेदी प्रांत संयोजिका ने विशिष्ट लोगों का स्वागत और परिचय दिया। कार्यक्रम की प्रस्तावना श्रीमती स्वातीराज गुप्ता विभाग संयोजिका ने रखी। श्रीमती कमलिनी गुप्ता और श्रीमती पूर्णिमा ने आभार व्यक्त किया। सांस्कृतिक कार्यक्रम का संचालन पूर्णिमा सिंह और शशिप्रभा ने किया। शांभवी और सहयोगियों ने व्यवस्था देखी। राष्ट्र सेविका समिति, गायत्री परिवार, पतंजलि, ब्रह्मकुमारी, यूथ फाउंडेशन, विद्यार्थी परिषद, सिंधु सभा एवं अन्य कई संगठन की बहनों ने अपना सहयोग दिया।


कार्यक्रम में प्रदर्शनी और स्टॉल भी थे। इस कार्यक्रम में विभिन्न संगठनों की लगभग 900 बहनों ने अपनी सहभागिता निभाई।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button