देश

बिहार में बीजेपी दफ्तर और ठेलों में लगी आग, आंदोलनकारियों ने कहा…सेना में पहले की तरह हो भर्ती

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : पटना – आर्मी, नेवी और वायुसेना में भर्ती के लिए सरकार की नई योजना ‘अग्निपथ’ के विरोध में बिहार में शुरू हुआ युवाओं का विरोध दूसरे दिन यानी गुरुवार को उग्र रूप अख्‍त‍ियार कर लिया है। नवादा जिले के भाजपा कार्यालय में उपद्रवियों ने तोड़फोड़ की और आग लगा दी। इससे पहले इसी जिले में भाजपा विधायक पर हमला हुआ था। दिल्‍ली- हावड़ा मुख्‍य रेल लाइन के बक्‍सर और आरा स्‍टेशनों पर जमकर तोड़फोड़ हुई है और रेल संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया है। सुबह से लेकर अब तक हुए हंगामे ने रेलवे को भारी नुकसान पहुंचाया है। बिहार के रास्‍ते चलने वाली तमाम ट्रेनें इससे प्रभावित हुई हैं। रेलवे ने बुलेटिन जारी कर बताया है कि बिहार में किस रेलखंड पर यातायात की क्‍या स्‍थि‍त‍ि है।

Advertisement

विरोध की यह कड़ी भागलपुर से बक्‍सर तक देखने को मिल रही है। कई जगह ट्रेनों की बोगियों में आग लगा दी गई है, तो आरा में ट्रेन पर पथराव से कई यात्री जख्‍मी हो गए हैं। मोतिहारी, सिवान, छपरा, जहानाबाद, अरवल, नवादा, पटना, मुजफ्फरपुर, कैमूर सहित कई शहरों में पिछले दो दिनों में विरोध तेज हुआ है। गया में गांधी मैदान में युवाओं ने सभा की। यहां प्रशासन पहले से सतर्क रहा और सभी महत्‍वपूर्ण स्‍थलों पर पर्याप्‍त संख्‍या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया था। युवाओं का कहना है कि सरकार को सेना में भर्ती, वेतन और पेंशन के लिए पुरानी प्रक्रिया को ही जारी रखा जाना चाहिए।

Advertisement

गुरुवार को पटना – गया रेलखंड, पटना-पीडीडीयू रेलखंड, गया- किउल रेलखंड, छपरा- सिवान रेलखंड पर युवाओं ने ट्रेन परिचालन बाधित किया है। बुधवार की शाम गया में पूर्व मुख्‍यमंत्री जीतन राम मांझी के काफिले पर इसी विषय पर हंगामे के दौरान पथराव किया गया था। गुरुवार को नवादा में विधायक की गाड़ी पर उपद्रवियों ने हमला कर दिया। उनकी गाड़ी के शीशे तोड़ दिए। हंगामा के चलते पटना-रांची जनशताब्‍दी एक्‍सप्रेस, काशी-पटना जनशताब्‍दी एक्‍सप्रेस, लोकमान्‍य तिलक-कामख्‍या एक्‍सप्रेस सहित कई ट्रेनों को अलग -अलग स्‍टेशनों पर घंटों रोकना पड़ा है। बुधवार को पटना, भागलपुर, बक्‍सर, मुजफ्फरपुर, बेगूसराय सहित और भी कई शहरों में हंगामा हुआ था।

जहानाबाद स्‍टेशन पर नई योजना के विरोध में सेना बहाली की तैयारी करने वाले युवाओं ने प्रदर्शन किया। यहां युवाओं ने ट्रेनों के साथ स्‍टेशन के ठीक बगल से गुजरने वाले एनएच पर वाहनों का आवागमन भी बाधित किया। करीब ढाई घंटे के बाद पुल‍िस ने लाठीचार्ज कर युवाओं को खदेड़ा। अरवल में भी आर्मी बहाली को लेकर हंगामा हुआ, जिसे प्रशासन ने दो घंटे की मशक्‍कत के बाद शांत करा लिया। इधर, बक्‍सर और नवादा में भी हंगामा शुरू हुुुआ है। नवादा जिले में वारसलीगंज विधानसभा क्षेत्र की विधायक अरुणा देवी की गाड़ी पर हमले की सूचना मिल रही है। आरा स्‍टेशन के पास चलती ट्रेन पर पथराव से कई रेल यात्री घायल हो गए हैं, जिनका इलाज दानापुर के रेलवे अस्‍पताल में किया जा रहा है।

जहानाबाद में सुबह छह बजे ही छात्रों ने आकर रेलवे ट्रैक पर कब्जा जमा लिया था। छात्रों के शांतिपूर्ण प्रदर्शन पर पुलिस भी चुप थी। तीन घंटे बाद छात्रों की भीड़ से अचानक किसी ने पथराव शुरू कर दिया, जिसके बाद पुलिस ने भो मोर्चा संभाल लिया। हल्का बल प्रयोग कर छात्रों को खदेड़ भगाया। इस बीच पथराव में रेल पुलिस के जवान निरंजन कुमार जख्मी हो गए, जिनका इलाज रेल अस्पताल में कराया गया।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button