देश

11 अप्रैल को अनशन 11 मई को ‘जन संघर्ष यात्रा’, अब 11 जून को क्या करेंगे सचिन पायलट?

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : राजस्थान की सियासी जमीन पिछले कई दिनों से उथल-पुथल भरी रही है। दरअसल कांग्रेस पार्टी के कद्दावर नेता और राज्य के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट पिछले कई दिनों से अपनी ही पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं।

Advertisement

पायलट पूर्व की वसुंधरा सरकार में हुए कथित भ्रष्टाचार को लेकर जांच की मांग कर रहे हैं। हालांकि, उन्हें लेकर यह चर्चा भी जोरों पर है कि वो राज्य में कांग्रेस का प्रमुख चेहरा बनना चाहते हैं। ऐसे में पिछले तीन महीने के घटनाक्रम को देखें तो उसमें 11 तारीख का एक पैटर्न दिखाई देता है।

Advertisement

दरअसल 11 अप्रैल को सचिन पायलट भ्रष्टाचार की मांग को लेकर धरने पर बैठे, फिर आई मई की 11 तारीख, और इसी दिन पायलट ने एक बार फिर भ्रष्टाचार की जांच के लिए अजमेर से लेकर जयपुर तक की पैदल यात्रा की थी। अब एक सवाल सामने आ रहा है कि क्या सचिन पायलट 11 जून को भी कुछ बड़ा फैसला लेने वाले हैं?

Advertisement

राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के लिए जून की 11 तारीख का अपना महत्व है। दरअसल सचिन पायलट के पिता और कद्दावर कांग्रेसी नेता राजेश पायलट की इसी दिन पुण्यतिथि है। इसी दिन सचिन पायलट के पिता राजेश पायलट की एक सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी। यही कारण है कि सचिन पायलट के लिए यह तारीख महत्वपूर्ण मानी जाती है। 11 तारीख के पैटर्न को देखते हुए यह उम्मीद जताई जा रही है की पिता की पुण्यतिथि पर सचिन पायलट कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं।

Advertisement

नई पार्टी बनाने की अटकलें
सचिन पायलट का अपनी ही सरकार की तरफ रुख देखकर यह माना जा रहा था कि अब वो कांग्रेस पार्टी को छोड़कर कोई दूसरी पार्टी जॉइन करेंगे या अपनी खुद की पार्टी बनाएंगे। हाल ही में यह अटकलें लगाई जा रही हैं कि सचिन पायलट 11 जून को अपने पिता राजेश पायलट की पुण्यतिथि पर खुद की पार्टी का ऐलान कर सकते हैं। इस दौरान उनकी कथित पार्टी का नाम भी सामने आया है। अटकलों के अनुसार, उनकी नई पार्टी का नाम ‘प्रगतिशील कांग्रेस’ हो सकता है।

एक और रास्ता
11 जून को अपनी नई पार्टी की घोषणा के अलावा पायलट एक और कदम उठा सकते हैं। एक ओर ऐसा भी माना जा रहा है कि सचिन पायलट कांग्रेस छोड़कर नहीं जाएंगे लेकिन वह अपनी ही सरकार के खिलाफ एक बार फिर मोर्चा खोल सकते हैं। पूर्व की वसुंधरा सरकार में हुए कथित भ्रष्टाचार की जांच की मांग को लेकर एक बार फिर से पायलट सड़क का रुख कर सकते हैं।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button