Uncategorized

मुझे गोली मत मारो’, गले में तख्ती डालकर थाने पहुंचा बदमाश, यूपी पुलिस ने घोषित किया था

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के आने के बाद अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई हो रही है। कई कुख्यात अपराधियों ने पुलिस के सामने एनकाउंटर से बचने के लिए आत्मसमर्पण भी किया है। इसी क्रम में गोंडा जिले में वांछित व्यक्ति गले में तख्ती लटकाए पुलिस स्टेशन पहुंच गया। अधिकारियों ने बुधवार को कहा कि लूट के एक मामले में वांछित एक व्यक्ति ने गले में तख्ती लटकाकर पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया।

Advertisement

आरोपी के गले में लटकी तख्ती पर लिखा था, “मैं आत्मसमर्पण करने आया हूं, मुझे गोली मत मारो।” उस व्यक्ति की पहचान अंकित वर्मा के रूप में हुई है। वे पिछले छह महीने से फरार हैं। सर्कल ऑफिसर नवीना शुक्ला ने कहा, “यह अपराधियों के बीच पुलिस के डर का नतीजा है कि वे आत्मसमर्पण कर रहे हैं।”

Advertisement

मंगलवार को अंकित वर्मा गले में तख्ती लटकाकर छपिया थाने पहुंचा और चिल्लाते हुए कहा, ”मैं आत्मसमर्पण करने आया हूं, मुझे गोली मत मारो।” पुलिस अधिकारी नवीना शुक्ला ने कहा कि तख्ती पर उनकी लिखावट में भी यही संदेश था। बता दें कि पुलिस कई महीनो से अंकित वर्मा की तलाश कर रही थी। पुलिस ने अंकित वर्मा के सिर पर 20,000 रुपए का इनाम भी घोषित किया था।

गोंडा जिले में स्थित महुली खोरी गांव के अमरजीत चौहान ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि जब वह 20 फरवरी को मोटरसाइकिल पर कॉलेज से लौट रहे थे, तो पिपराही पुल के पास दो लोगों ने उन्हें रोका और बंदूक की नोक पर उनका दोपहिया वाहन, मोबाइल फोन और बटुआ लूट लिया था।

इसके बाद डकैती का मामला दर्ज किया गया और जांच के दौरान अंकित वर्मा और एक अन्य व्यक्ति के नाम सामने आया नवीनाशुक्ला ने कहा, पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल ने उनकी गिरफ्तारी पर 20,000 रुपये का इनाम भी घोषित किया। स्टेशन हाउस अधिकारी सुरेश कुमार वर्मा ने कहा कि उस व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया और अन्य कानूनी औपचारिकताएं पूरी की गईं। यहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दौरे से पहले शख्स के आत्मसमर्पण को पुलिस ‘बड़ी उपलब्धि’ बता रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button