देश

क्या अदालत को भी जेब में रखना चाहती है कांग्रेस….राहुल को सजा के बाद खूब बरसी भाजपा

(शशि कोन्हेर) : मोदी सरनेम पर आपत्तिजनक टिप्पणी किए जाने के मामले में राहुल गांधी को सूरत की सेशंस कोर्ट से दो साल की सजा हुई है। इस पर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि हमें तो पहले से ही पता था कि ऐसा होगा। उन्होंने कहा कि इस मामले में बार-बार जज बदला जा रहा था। इससे पता था कि ऐसा ही होगा। अब इस पर भाजपा ने तीखा पलटवार किया है। भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने मीडिया से बातचीत में कहा कि क्या कांग्रेस अदालत को भी अपनी जेब में रखना चाहती है। खड़गे जी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष हैं और उन्हें जिम्मेदारी से बात करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जज को बार-बार बदला गया।

Advertisement


रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आखिर वह कहना क्या चाहते हैं। उनकी यह टिप्पणी अदालत की अवमानना का मामला है। राहुल गांधी ने एक सरनेम को बदनाम किया था। वह देश और देश की जनता को भी अपमानित करना चाहते हैं। राहुल गांधी ने भारत के लोकतंत्र का अपमान पहली बार नहीं किया है। उनको वोट नहीं मिलता है तो हम क्या करें। अभी असम, नागालैंड और मेघालय में हारे तो फिर कहने लगे कि लोकतंत्र खतरे में है। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सत्य का मतलब किसी को जातिसूचक गाली देना है क्या? क्या सत्य अहिंसा का मतलब किसी का अपमान करना है।

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button