छत्तीसगढ़

180 करोड़ रुपए के कर्ज में थे, डायरेक्टर नितिन देसाई, यही कर्ज बना उनकी खुदकुशी का कारण

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : बॉलीवुड के मशहूर आर्ट डायरेक्टर नितिन चंद्रकांत देसाई की 58 साल की उम्र में मौत हो गई. नितिन ने अपने ही स्टूडियो में फंदे से झूल कर मौत को गले लगा लिया. कर्जत में स्थित बेहद मशहूर एनडी स्टूडियो में उनकी मौत हुई. ये स्टूडियो नितिन देसाई का ड्रीम प्रोजेक्ट कहलाता था. उनके असमय मौत से पूरा बॉलीवुड शौक में है और लोग इस घटना से काफी हैरान भी हैं. खबरों के अनुसार नितिन देसाई ने करोड़ों रुपए के कर्ज के कारण आत्महत्या की.

Advertisement

जानकारी के अनुसार नितिन देसाई ने एक फाइनेंस कंपनी से करीब 180 करोड़ का कर्ज लिया था, जिसकी वजह से वो परेशान थे. आर्थिक तंगी और कर्ज की वजह से उन्होंने खुदकुशी की. खबर ये भी है कि उन्होंने अपनी प्रोपर्टीज को मॉर्गेज रखा हुआ था, जिसे बेच कर कंपनी उगाही करना चाहती थी.

Advertisement

तीन साल से घाटे में था एनडी स्टूडियो

नितिन देसाई के आत्महत्या के मामले पर फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने इम्पॉय (FWICE) के प्रेसिडेंट बीएन तिवारी ने कहा कि उन्होंने एनडी स्टूडियो के पीछे बहुत पैसा लगाया था. करीब 150 लोग वहां काम करते थे. इतने बड़े स्टूडियो में इक्का-दुक्का फिल्मों की शूटिंग से काम नहीं चल सकता. कोरोना काल से ही स्टूडियो घाटे में चल रहा था. उन्हें फाइनेंसर नहीं मिल रहे थे और कर्जा बढ़ता चला जा रहा था.

पंखे से झूलकर दी जान

बता दें कि नितिन देसाई ने अपने स्टूडियो में ही आत्महत्या की. खबर के अनुसार वह बीती रात को करीब 10 बजे अपने कमरे में गए और फिर सुबह जब देर तर बाहर नहीं आए तो लोग परेशान होने लगे. उनका शव अपने ही कमरे के पंखे में फंदे से लटकता पाया गया. नितिन देसाई ने लगान, हम दिल दे चुके सनम, मिशन कश्मीर, राजू चाचा, देवदास और बाजीराव मस्तानी जैसी फिल्मों का सेट डिजाइन किया था.

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button