बिलासपुर

व्यापार विहार पहुंचा निगम का अमला, पानी निकासी को लेकर बनाई जा रही व्यवस्था, आयुक्त सहित अधिकारी मौके पर, चक्का जाम फिलहाल नहीं….

(आशीष मौर्य) : बिलासपुर – नगर निगम की लचर कार्यप्रणाली के चलते महाराणा प्रताप चौक व्यापारी संघ ने 25 जुलाई को चक्का जाम करने की चेतावनी दी थी, दरअसल बरसात का पानी नाली में बहने की जगह सड़क पर बह रहा है, और दुकानों में भी घुस रहा है. बार-बार नगर निगम प्रशासन के अधिकारियों और महापौर से मिलने के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा था, पानी निकासी की समुचित व्यवस्था नहीं हो पाने से नाराज व्यापारी संघ ने कड़ा रुख अपनाते हुए चक्का जाम करने की चेतावनी दी थी.

Advertisement

व्यापारी संघ की नाराजगी को देखते हुए नगर निगम प्रशासन बैकफुट पर आया और रविवार को व्यापार विहार सड़क पर पानी निकासी को लेकर व्यवस्था बनाया गया. नगर निगम कमिश्नर अजय कुमार त्रिपाठी सहित निगम के अधिकारियों ने मौके में पहुंचकर वस्तुस्थिति को जाना और जाम पड़ी नालियों को साफ करने और पानी निकासी को लेकर व्यवस्था बनानी निर्देश दिए.

Advertisement

फौरी तौर पर निगम प्रशासन व्यापारियों को राहत देने काम तो कर रहा है लेकिन जो समस्या है वह सदा दिन की है, इसके लिए निगम प्रशासन को प्लानिंग से काम करने की जरूरत है ताकि स्मार्ट सिटी रोड में भरने वाला पानी नालियों में बहे. अव्यवस्थित नालियां, कचरे से जाम पड़ी नालियों को भी नियमित तौर पर अगर साफ कराया जाता तो शायद स्मार्ट सड़क पर जलभराव जैसी समस्या तो नहीं होती.

Advertisement

निगम आयुक्त ने बनाई 4 सदस्य टीम, सौपी रिपोर्ट :- स्मार्ट सड़क पर जलभराव की समस्या के निदान के लिए नगर निगम आयुक्त ने 4 सदस्य टीम बनाया है जिसने अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली है और आयुक्त को सौंप दी है. आयुक्त का कहना है जल्दी इस ओर ध्यान देकर परमानेंट सॉल्यूशन किया जाएगा, ताकि जलभराव की स्थिति ना रहे।

चक्का जाम फिलहाल नहीं :- चक्का जाम की चेतावनी के बाद नगर निगम प्रशासन ने जिस तरह आनन-फानन में व्यापार विहार सड़क पर काम करना शुरू कर दिया है, ऐसा लगता है कि व्यापारी अभी चक्का जाम नहीं करेंगे. व्यापारियों का यह भी कहना है कि अगर समस्या का समाधान नहीं हुआ तो मैं आगे चक्का जाम करने के लिए बाध्य है.

जय त्रिपाठी (कमिश्नर, नगर निगम बिलासपुर)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button