छत्तीसगढ़

गांधी जयंती 2 अक्टूबर को बिलासपुर में कांग्रेस की भरोसा यात्रा, पार्टी की बैठक में तैयारियों पर चर्चा

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : बिलासपुर। शहर ज़िला कांग्रेस कमेटी ने आज कांग्रेस भवन में बैठक आहूत कर 2 अक्टूबर को होने वाले ” छत्तीसगढ़ भरोसा यात्रा ” की तैयारी को लेकर चर्चा हुई ,बैठक में शहर प्रभारी और प्रदेश संयुक्त सचिव अजय अग्रवाल जी और विधानसभा प्रभारी ,प्रदेश सचिव आत्मजीत मक्कड़ उपस्थित थे।

Advertisement


विधानसभा प्रभारी आत्मजीत मक्कड़ ने कहा कि यात्रा में कांग्रेस के सभी अनुषांगिक इकाइयां  ब्लाक कांग्रेस, सेवादल,युवा कांग्रेस ,महिला कांग्रेस ,निर्वाचित जन प्रतिनिधि, मोर्चा ,विभाग,प्रकोष्ठ के पदाधिकारी निश्चित रूप से शामिल हो ।

Advertisement


शहर अध्यक्ष विजय पांडेय ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर 02 अक्टूबर को छत्तीसगढ़ भरोसा यात्रा दोपहर 2.00 बजे से देवकीनन्दन चौक से निकलेगी, 02 अक्टूबर  को महान हस्तियों की जयंती दिवस है ,जिन्होंने देश की आज़ादी में बड़ी भूमिका अदा की , राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री  स्व लाल बहादुर शास्त्री की ,जो सत्य और अहिंसा के अमोघ अस्त्र से देश को आज़ाद किया ,उन्ही के बताए मार्ग पर छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार ने चलकर एक खुशहाल प्रदेश का निर्माण किया है और जनता का भरोसा को जीता है , जनता की भरोसा को बरकरार रखते हुए कांग्रेसजन भरोसा यात्रा करेंगे और सरकार की जनहित योजनाओ को  बताएंगे ।


शहर विधायक शैलेष पांडेय ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री को शहर स्तर के भाषण से बचना चाहिए इससे देश की गरिमा धूमिल होती है ,क्योकि प्रधानमंत्री के भाषण का प्रसारण विदेश तक होता है । प्रधानमंत्री जी को 25 हजार करोड़ छत्तीसगढ़ सरकार को वापस करना था ,जो पैसेंजर ट्रेन तीन साल से बंद है उसे सुचारू रुप से चलाना प्रारम्भ कराते, अडानी को जो कोल ब्लॉक आबंटित है उसे रदद् करना था ,2014 में छहत्तीसगढ़ कई जनता को 15-15 लाख देने का वादा किया था उसे उनके खाते में डालते, दो करोड़ रोजगार देते, महंगाई कम करते।

गैस,सिलेंडर,पेट्रोल-डीजल की कीमत कम करते पर एक प्रधानमंत्री का अपनी जनता से किये गए कमिटमेंट को पूरा न करना  सबसे बड़ा छलावा है ,नसबन्दी कांड,सीवरेज घोटाला, पनामा  स्कैम, आंख फोड़वा कांड,किडनी कांड की जांच सीबीआई ,ईडी से कराने की घोषणा करते जिससे छहत्तीसगढ़ कि जनता परेशान थी उस पर न बोलना और नए वादा करना केवल सत्ता में आने के बाद छहत्तीसगढ़ कि संसाधनों को आने मित्र उद्योगपतियों को देने के लिए है।
बैठक में शहर अध्यक्ष विजय पांडेय, शहर प्रभारी अजय अग्रवाल, विधानसभा प्रभारी आत्मजीत मक्कड़, विधायक शैलेष पांडेय, सहकारी बैंक अध्यक्ष प्रमोद नायक, सभापति शेख नजीरुद्दीन ,योग आयोग सदस्य रविन्द्र सिंह,,पूर्व विधायक चन्द्र प्रकाश बाजपेयी, पूर्व महापौर राजेश पांडेय, राकेश शर्मा,शिवा मिश्रा, एमआईसी सदस्य राजेश शुक्ला, प्रवक्ता ऋषि पांडेय,अमर बजाज, ब्लाक अध्यक्ष जावेद मेंमन, विनोद साहू,मोती ठारवानी, सीमा घृटेश,काशी रात्रे,सुभाष ठाकुर,शेख असलम,अर्जुन सिंह,रणजीत खनूजा ,शिवा मुदलियार, कमलगुप्ता, मनोज शर्मा,मनोज सिंह, लक्ष्मी जांगड़े, कविता पांडेय, ममता हटकेश्वर, जाहिदा,मोती कुर्रे,विनय वैद्य,शुभ लक्ष्मी,पुनाराम कश्यप,राजेन्द्र वर्मा,अनिल घोरे,अनिल पांडेय,भजन गांधी,सन्तोष अग्रवाल,संतोष गुप्ता, देवेंद्र मिश्रा,राजेश ताम्रकार,राज कुमार बंजारे,दुर्देशी धनगर,शंकर कष्यप, करम गोरख,रामचन्द्र क्षत्री,गणेश रजक,बबलू मगर आदि उपस्थित थे। संचालन ऋषि पांडेय ने किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button