देश

भारत जोड़ो यात्रा के भव्य समापन समारोह की तैयारी में जुटी कांग्रेस.. समान विचारधारा वाले कई दलों को श्रीनगर आने का दिया न्यौता

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : राहुल गांधी के नेतृत्व वाली भारत जोड़ो यात्रा 30 जनवरी को जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में समाप्त होने वाली है। पदयात्रा 20 जनवरी को जम्मू-कश्मीर में प्रवेश करेगी और 30 जनवरी को श्रीनगर में ध्वजारोहण के साथ समाप्त होगी। भारत जोड़ो यात्रा के ग्रैंड फिनाले को भव्य बनाने के उद्देश्य से पार्टी ने श्रीनगर में समान विचारधारा वाले 20 से ज्यादा दलों को बुलावा भेजा है।

Advertisement

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी द्वारा विपक्षी दलों को भेजी गई चिट्ठी में कहा गया है कि 30 जनवरी को श्रीनगर में भारत जोड़ो यात्रा का समापन होगा। इसके लिए कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने सभी विपक्षी पार्टियों को श्रीनगर में भारत जोड़ो यात्रा के समापन समारोह में शामिल होने के लिए निमंत्रण भेजा है।

Advertisement

अब तक की यात्रा के बारे में उत्साहित, देश की सबसे पुरानी इसके भव्य समापन के लिए पूरी ताकत लगा रही है। कहा जा रहा है कि श्रीनगर में पार्टी का शीर्ष नेतृत्व मौजूद रहेगा, जिसमें कांग्रेस वर्किंग कमेटी (सीडब्ल्यूसी) के सदस्य, सांसद, विधायक और मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे। ग्रैंड फिनाले के लिए कांग्रेस ने श्रीनगर में लगभग 200 कमरे बुक किए हैं।

खड़गे ने 30 जनवरी को दोपहर 1 बजे श्रीनगर में आयोजित होने वाले यात्रा के समापन समारोह में शामिल होने के लिए 24 समान विचारधारा वाले दलों को आमंत्रित किया है। उन्होंने कहा कि यह समारोह महात्मा गांधी की स्मृति को समर्पित है, जिन्होंने नफरत और हिंसा की विचारधारा के खिलाफ अपने अथक संघर्ष में इस दिन अपना जीवन न्योछावर कर था।

उन्होंने कहा, “इस कार्यक्रम में, हम सच्चाई, करुणा और अहिंसा के संदेश को फैलाने और सभी के लिए स्वतंत्रता, समानता, बंधुत्व और न्याय के संवैधानिक मूल्यों की रक्षा करने के लिए नफरत और हिंसा से लड़ने के लिए खुद को प्रतिबद्ध करेंगे।” उन्होंने यह भी कहा कि कन्याकुमारी से कश्मीर तक राहुल गांधी के नेतृत्व वाली यात्रा अब 3,300 किलोमीटर से अधिक पूरी हो चुकी है।

गौरतलब है कि अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के बाद, यह पहली बार होगा जब जम्मू कश्मीर इस स्तर पर राजनीतिक गतिविधि और जन लामबंदी का गवाह बनेगा। अपने दिग्गज नेता और क्षेत्र के सबसे बड़े चेहरे गुलाम नबी आजाद के बाहर निकलने के बाद कांग्रेस के लिए भी यह पहली बार होगा जब वह श्रीनगर में अपना शक्ति प्रदर्शन करेगी।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button