छत्तीसगढ़

कांग्रेस ने भाजपा से पूछा सवाल…वंदे भारत एक्सप्रेस का छत्तीसगढ़ में स्वागत, लेकिन ट्रेनबंदी पर मौन क्यों है भाजपा के सांसद?…इसकी टिकट महंगी गरीब की पहुंच से बाहर.. कांग्रेस

(शशि कोन्हेर) : रायपुर  : प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि वंदे भारत ट्रेन छत्तीसगढ़ में शुरू होना छत्तीसगढ़ के लिए खुशी की बात है। वंदे भारत ट्रेन से भी ज्यादा जरूरी है देश के लोगों की नियमित रेल सेवा बहाल की जाये। एक वंदे भारत ट्रेन महीनों से बंद सैकड़ो ट्रेनों का विकल्प नही बन सकती। वर्तमान में मोदी सरकार ने अकेले छत्तीसगढ़ की रेल सुविधाओं को लगभग बंद कर दिया है, उसको नियमित किया जाये। आजादी के पहले से रेल आम आदमी की यात्रा का सबसे महत्वपूर्ण साधन है। मोदी सरकार ने इसको तबाह कर दिया है।

Advertisement

राज्य की सारनाथ और नोतनवा जैसी महत्वपूर्ण ट्रेनों को 68 दिनों के लिये बंद कर दिया गया है। भाजपा के सांसद इस पर एक शब्द भी नही बोले। भाजपा के सांसद संतोष पांडेय जो वंदे भारत ट्रेन शुरू करने के लिए रेल मंत्री का आभार व्यक्त कर रहे हैं उन्हें प्रदेश की जनता को बताना चाहिए कि प्रदेश में बीते 11 महीना से 2600 से अधिक जो ट्रेन बंद हुई है जिस के चलते प्रदेश के ट्रेन यात्रियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

Advertisement

अचानक ट्रेन रद्द कर दी जाती है महीनों पहले यात्रा के लिए आरक्षित टिकटों को रद्द कर दिया जाता है और लगातार मोदी सरकार छत्तीसगढ़ में ट्रेनबंदी कर रही है। संतोष पांडेय सहित भाजपा के अन्य सांसदों की रुचि बंद ट्रेनों को शुरू कराने नही है? क्या छत्तीसगढ़ की जनता ने भाजपा के सांसदों को सिर्फ मोदी का गुणगान करने के लिए चुना है? भाजपा के सांसदों को प्रदेश की जनता की आवाज सदन में उठानी चाहिए। अभी चल  रहे शीतकालीन सत्र में क्या भाजपा के सांसद ट्रेन बंदी की समस्या को उठाएंगे?

Advertisement

      प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि वंदे भारत ट्रेन की टिकट महंगी है जो गरीब जनता के पहुंच से बाहर है उक्त ट्रेन के चलते अन्य ट्रेनों को लेट किया जा रहा है जिसके कारण आम जनता को भी यात्रा के दौरान जो ट्रेनें चल रही है उस के माध्यम से गंतव्य तक जाने में भारी लेटलतीफी का सामना करना पड़ रहा है और गरीबों के जो ट्रेन एक्सप्रेस सुपरफास्ट लोकल ट्रेन बंद है छत्तीसगढ़ की जनता जो लोकल ट्रेन के माध्यम से एक शहर से दूसरे शहर अपने रोजमर्रा के कामों को निपटाने परिवार के सदस्यों का इलाज कराने और छात्र पढ़ाई करने के लिए जाते हैं प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले भी इस ट्रेन के माध्यम से रोजाना आनाजाना करते हैं ।

वह बीते 11 महीने से हताश और परेशान हैं जहां यात्री ट्रेनों को बंद कर दिया गया है उसी रूट पर  कोयला लेकर धड़ाधड़ती हुई ट्रेन राज्य से बाहर जा रही है और यात्री ट्रेन जिसमें गरीब सस्ते दरों में टिकट खरीद कर अपने गंतव्य तक परिवार से पहुंच सकते हैं उन ट्रेनों बन्द कर दिया गया है। संतोष पांडे सहित भाजपा के सांसदों को इसको शुरू कराने के लिए अपने जिम्मेदारियों का निर्वहन करना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button