छत्तीसगढ़बिलासपुर

कलेक्टर ने चार्ज लेने के तत्काल बाद ली अफसरों की बैठक….

Advertisement

(इरशाद अली संपादक लोकस्वर टीवी) : बिलासपुर – जिले के नये कलेक्टर अवनिश शरण ने चार्ज लेने के तत्काल बाद मंथन सभाकक्ष में अधिकारियों की बैठक लेकर चुनाव तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने सबसे पहले सभी अधिकारियों से परिचय एवं उन्हें सौंपे गये कार्यो की जानकारी प्राप्त किया। कलेक्टर ने कहा कि चुनाव आयोग के निर्देशानुसार विधानसभा से जुड़े हर काम को समय-सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए।

Advertisement

कलेक्टर ने कहा कि स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराना फिलहाल जिला प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है। अधिकारी तनावमुक्त होकर निष्पक्षता के साथ सौंपे गये दायित्व को समयसीमा में अंजाम दें।

Advertisement

उन्होंने शांतिपूर्ण चुनाव के लिए पुलिस विभाग की तैयारियों की भी जानकारी ली। बैठक में पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह, नगर निगम आयुक्त कुणाल दुदावत, जिला पंचायत सीईओ  अजय अग्रवाल सहित विधानसभा चुनाव संबंधी विभिन्न कार्यों के लिए जिम्मेदार नोडल अफसर भी मौजूद थे।
 

कलेक्टर श्री शरण ने कहा कि चुनाव संबंधी हर प्रकार के काम-काज के लिए चुनाव आयोग के निर्देश बहुत ही स्पष्ट एवं पारदर्शी हैं। जरूरत यह कि हमें इसकी अच्छी तरह ज्ञान होनी चाहिए। यह तभी संभव है जब सभी अधिकारी चुनाव आयोग की पुस्तिका को अच्छी तरह पढ़ें। इसके बावजूद भी कोई शंका है तो वरिष्ठ अधिकारियों से मार्गदर्शन प्राप्त कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न कराना एक बड़ा एवं चुनौतीपूर्ण काम है। हम सब टीम वर्क के साथ काम कर सफलता के साथ संपन्न होगा। कलेक्टर ने बैठक में कानून व्यवस्था की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि आगे काफी त्योहार हैं। इनमें काफी चहल-पहल रहेगी।

चुनाव प्रचार भी तेज हो जायेगा। उन्होंने एसएसटी एवं फ्लाईंग स्क्वायड टीम को बड़ी मुस्तैदी से काम करने की अपेक्षा की। उन्होंने प्रस्तुतीकरण के जरिए विधानसभा चुनाव तैयारी की कार्य-योजना को समझा और अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए।

कलेक्टर ने नामांकन भरने से लेकर चुनाव परिणाम तक चुनाव आयोग के निर्देश एवं अपेक्षा से अधिकारियांे को अवगत कराया। उन्होंने मतदान केन्द्रों की तैयारी की भी जानकारी ली। मतदाताओं की सुविधा के लिए बिजली एवं पानी का इंतजाम अनिवार्य से होने चाहिए। कई केन्द्रों में रात तक वोटिंग चलती है, इसलिए यथासंभव पॉवर बैकअप की भी व्यवस्था हो। उन्होंने मतदान केन्द्रों में आयोग के दिशा-निर्देश के अनुरूप तमाम मरम्मत कार्य पूर्ण कर एक सप्ताह में रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा है।

Advertisement

उन्होंने कानून व्यवस्था के लिए पुलिस एवं मजिस्ट्रेट को एक साथ दौरा करने के निर्देश दिए ताकि इसका अच्छा प्रभाव पड़े। उन्होंने चुनाव संबंधी प्रशिक्षण सत्र को अच्छे तरीके से संचालित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि नियम-कायदों को केवल अफसर को जानना पर्याप्त नहीं है। उनके मातहत काम करने वाले कर्मचारियों को भी पूरी तरह जानकारी होने चाहिए। क्योंकि व्यावहारिक रूप से मैदानी स्तर पर काम तो उनसे लेना है। बैठक में अपर कलेक्टर  आर.ए कुरूवंशी,  शिवकुमार बनर्जी सहित सभी नोडल अधिकारी मौजूद थे।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button