छत्तीसगढ़

महादेव अन्ना रेड्डी ऑनलाइन सट्टा पर बिलासपुर पुलिस की बड़ी कार्रवाई, मुख्य सरगना सन्नी पृथवानी गिरफ्तार, रायपुर के होटल इंडस्ट्री से जुड़े कई बड़े लोगों का नाम आया सामने

Advertisement

(आशीष मौर्य के साथ प्रदीप भोई) :  महादेव अन्ना रेड्डी ऑनलाइन सट्टा पर बिलासपुर पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है।इस बार पुलिस के हाथ सरगना लगा है।पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने बताया कि पूछताछ के दौरान रायपुर में होटल इंडस्ट्री से जुड़े बड़े लोगों का नाम सामने आया है।जिनका चेहरा जल्द ही बेनकाब किया जाएगा।

Advertisement
बाईट – संतोष सिंह, एसपी बिलासपुर

महादेव अन्ना रेड्डी ऑनलाइन सट्टा खिलाने वाले खाईवाल को पकड़ने में पुलिस को सफलता मिली है।हर बार पुलिस सटोरियों को ही पकड़ती थी, लेकिन इस बार पुलिस के हाथ मुख्य सरगना सन्नी पृथ्वीनी लगा है।शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेंद्र जयसवाल, सीएसपी सिविल लाइन आईपीएस संदीप कुमार पटेल ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि पकड़ा गया आरोपी सन्नी पृथवानी रायपुर में बैठकर जगह-जगह ऑनलाइन सट्टा खिला रहा था।

Advertisement

सरगना ने अपना ऑनलाइन नेटवर्क बढ़ाने युवकों को ऑपरेटर की नौकरी देने के नाम पर रखा हुआ था। जिन्हें यह नहीं मालूम था कि वह सट्टा मार्केट के लिए काम कर रहे हैं. बाद में उन्हें जब इसकी जानकारी लगी उन्हें मोटा कमीशन देने की बात कहकर रोक लिया गया।अब जब मुख्य सरगना सलाखों के पीछे हैं तो पुलिस ने भी उन सभी ऑपरेटर्स को भी आरोपी बनाया है. पकड़े गए आरोपियों में विजय भगत, रमेश सिंह मनेश्वर भगत और मोंटू रवानी शामिल है।

पकड़े गए मुख्य सरगना और उसके साथियों से पुलिस ने 150000 नगद 10 मोबाइल फोन 3 लैपटॉप, पदस्थ अलग-अलग बैंकों के पासबुक और एटीएम जप्त किए हैं।पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने बताया कि रायपुर के होटल इंडस्ट्री से जुड़े बड़े-बड़े लोग उसके संपर्क में थे. एसपी संतोष कुमार सिंह ने कहा कि उन सभी सफ़ेद पोशो  से भी कड़ाई से पूछताछ की जाएगी।

पूरी कार्रवाई में तार बहार थाना प्रभारी मनोज नायक ने दिन-रात एक कर मेहनत किया. साइबर सेल से कोआर्डिनेशन बनाकर आरोपियों के गिरेबान तक पुलिस पहुंची। महादेव अन्ना रेड्डी का मुख्य सरगना सन्नी पृथवानी को यह भनक लग गई थी कि पुलिस उसके पीछे है, उसे तत्काल अपना लोकेशन बदलते हुए दिल्ली और फिर मुंबई भाग गया. पुलिस लगातार उसके नेटवर्क को खंगाल रही थी,और जब वह रायपुर पहुंचा तो पुलिस ने उसे  गिरफ्तार कर लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button