देश

कांग्रेस की हल्ला बोल रैली से पहले हुड्डा और गहलोत के बीच मंत्रणा ने सियासी अनुमानों को लगाए पंख…..

(शशि कोन्हेर) : नई दिल्ली – महंगाई के खिलाफ दिल्ली के रामलीला मैदान में रविवार को होने वाली कांग्रेस की ‘हल्ला बोल रैली’ से पहले भूपेंद्र सिंह हुड्डा और राजस्‍थान के सीएम अशोक गहलोत के बीच मंत्रणा से सियासत गर्मा गई है। शनिवार को अशोक गहलोत ने हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा से मुलाकात की। दोनों करीब 45 मिनट एक साथ रहे। इस मुलाकात के बाद कई तरह की सियासी चर्चाएं गर्म हो गई हैं।

Advertisement

कांग्रेस की रैली और भारत जोड़ो यात्रा से ठीक पहले गहलोत व हुड्डा के बीच हुई इस मुलाकात को राजनीतिक दृष्टिकोण से अहम माना जा रहा है। क्योंकि कांग्रेस छोड़ चुके वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद से मुलाकात के बाद हुड्डा पार्टी में अपने विरोधियों के निशाने पर हैं। हुड्डा विरोधी नेताओं ने इस मुलाकात को लेकर हाईकमान को पत्र भी लिखा है।कुछ नेता हाईकमान से हुड्डा पर कार्रवाई करने का दबाव भी बना रहे हैं।

Advertisement

दूसरी ओर, हुड्डा समर्थक कांग्रेस विधायक कुलदीप वत्स ने एक बार फिर आगे आकर प्रदेश प्रभारी विवेक बंसल पर हमला बोला है। वत्स ने राज्यसभा चुनाव के मामले में बंसल पर कार्रवाई करने की मांग की है। जबकि, अग्रवाल वैश्य समाज हरियाणा के प्रवक्ता सुमिता गर्ग ने कहा है कि कांग्रेस नेताओं की आपसी लड़ाई में वैश्य समाज के नेता के लिए अपशब्द बोलने को प्रदेश का वैश्य समाज बर्दाश्त नहीं करेगा।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button