देश

गुरुग्राम में बजरंग दल के सदस्यों ने मुस्लिमों को खुले स्थान पर नहीं पढ़ने दी नमाज

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : गुरुग्राम में खुले स्थान पर नमाज पढ़ने पर शुक्रवार को फिर विवाद हुआ. सेक्टर 69 में जुमे की नमाज पढ़ने पहुंचे मुस्लिमों को बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने खदेड़ दिया. इस इलाके में आपसी सहमति से नमाज पढ़ी जा रही थी. बिना किसी पूर्व सूचना के बजरंग दल के दर्जनों कार्यकर्ता सेक्टर 69 पहुंचे और नमाज पढ़ रहे नमाजियों को वहां से भगा दिया.

Advertisement


साइबर सिटी गुरुग्राम में खुले में नमाज का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. ताजा मामला सेक्टर 69 इलाके का है. वहां सैकड़ों नमाजी जुमे की नमाज पढ़ने के लिए जमा हुए थे. अचानक बजरंगदल के दर्जनों कार्यकर्ता सेक्टर 69 के हुड्डा ग्राउंड में पहुंचे और नमाज पढ़ रहे लोगों को खदेड़ दिया. उन्होंने चेतावनी दी कि अब खुले में नमाज़ कहीं भी नहीं पढ़ने दी जाएगी.

Advertisement

दरअसल खुले में नमाज विवाद के बाद एमआरएम (मुस्लिम राष्ट्रीय मंच), जो कि आरएसएस की शाखा है, ने जिला प्रशासन को छह जगहों पर खुले में नमाज की लिस्ट सौंपी थी. इसके बाद जिला उपायुक्त ने एसडीएम और पुलिस अधिकारियों की मौजूदगी में इन छह स्थानों पर खुले में नमाज की अनुमति दी थी.

इसके बावजूद बजरंगदल के दर्जनों कार्यकर्ता सेक्टर 69 के हुड्डा ग्राउंड में पहुंचकर दबंगई दिखाने लगे. उन्होंने चेतावनी दी कि सेक्टर 69 ही नहीं बल्कि अब शहर भर में कहीं भी खुले में नमाज पढ़ने का विरोध किया जाएगा.

गौरतलब है कि गुरुग्राम जिले में सेक्टर 29 लेजर वैली, शंकर चौक उद्योग विहार, असेम्बली पार्क, शंकर चौक, सेक्टर 69 और सेक्टर 43 पानी की टंकी के पास खुले में नमाज को लेकर जिला प्रशासन और एमआरएम के बीच 6 स्थानों पर  सहमति बनी थी. लेकिन अब फिर से खुले में नमाज को लेकर विवाद शुरू हो गया है.

पुलिस ने कहा कि बजरंग दल के जिला सुरक्षा प्रमुख अमित हिंदू के नेतृत्व में संगठन के लगभग 15 सदस्यों ने सेक्टर-69 में हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (एचएसवीपी) की भूमि पर खुले में हो रही नमाज को नारेबाजी करके बाधित किया.

बादशाहपुर थाने के एसएचओ उमेश कुमार ने बताया कि सूचना मिलने के बाद पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और देखा कि मुस्लिम समुदाय के लोग वहां से जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि टीम ने बजरंग दल के सदस्यों को वहां से जाने को कहा, जिसके बाद स्थिति पर काबू पाया गया. उमेश कुमार ने कहा, ‘‘यह स्थान छह चिह्नित (खुली) स्थलों में से एक है. हमें कोई शिकायत नहीं मिली है और अगर शिकायत मिलती है तो कानून सम्मत कार्रवाई की जाएगी.”

Advertisement

दक्षिणपंथी संगठन के सदस्य अमित हिंदू ने आरोप लगाया कि नमाजी क्षेत्र में हरित पट्टी पर अतिक्रमण कर रहे थे. उन्होंने कहा कि यह स्थान नमाज अदा करने के लिए अस्थायी आधार पर आवंटित किया गया था. उन्होंने दावा किया कि अब दूसरे जिलों और राज्यों से भी कुछ लोग यहां नमाज अदा करने आ रहे हैं.

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button