play-sharp-fill
देश

पंजाब कांग्रेस में भूचाल का अंदेशा, सिद्धू की टिप्पणियों से नाराज उप मुख्यमंत्री समेत कई नेता पहुंचे दिल्ली….

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : कैलाशनाथ। पंजाब कांग्रेस की राजनीति में बड़ी हलचल मच सकती है। उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा अचानक कैबिनेट मंत्री परगट सिंह, अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग व भारत भूषण आशु के साथ दिल्ली पहुंचे हैं। बताया जा रहा है कि यह नेता दिल्ली में राहुल गांधी से मुलाकात करने गए हैं। यह नेता पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा सरकार के खिलाफ की जा रही टिप्पणियों से नाराज हैं और सिद्धू की शिकायत राहुल से करना चाहते हैं। इनमें से परगट सिंह सिद्धू के सबसे ज्यादा नजदीकी लोगों में माने जाते हैं।

Advertisement

बता दें, उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा व भारत भूषण आशु खुलकर सिद्धू की टिप्पणियों को लेकर नाराजगी भी जता चुके हैं। रंधावा ने तो सिद्धू को यहां तक कह दिया कि वह अपनी जुबान बंद रखें। रंधावा ने गत दिवस भी चंडीगढ़ में प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि सिद्धू मजीठिया के खिलाफ केस के मामले में गलत बयानबाजी कर रहे हैं। उन्होंने सिद्धू को ऐसी बयानबाजी न करने की नसीहत भी दी है।

Advertisement

सूत्रों के मुताबिक पंजाब चुनाव को देखते हुए ये नेता चिंतित हैं कि कहीं सिद्धू के बयानों के कारण पार्टी को नुकसान न उठाना पड़े। इसी के मद्देनजर वह राहुल गांधी से मिलकर सिद्धू की टिप्पणियों के बारे में उनसे बताना चाहते हैं। सूत्र तो यह भी बताते हैं कि सुखजिंदर सिंह रंधावा चाहते हैं कि नवजोत सिंह सिद्धू को प्रदेश प्रधान पद से हटाकर पार्टी की कमान उन्हें सौंपी जाए।

खास बात यह है कि यह वही नेता हैं जिन्होंने कैप्टन अमरिंदर सिंह को सीएम पद से हटाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी और तब नवजोत सिंह सिद्धू का खुलकर साथ दिया था। परगट सिंह तो सिद्धू के सबसे ज्यादा नजदीकी लोगों में शामिल रहे हैं।अब अचानक उनके सिद्धू के खिलाफ दिल्ली पहुंचने से कई तरह का अंदेशा लगाया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button