छत्तीसगढ़

VIDEO : कांग्रेस नेता की बेरहम पिटाई से आक्रोशित सतनाम सेना ने सिविल लाइन थाने में किया प्रदर्शन आरोपी के खिलाफ FIR की मांग

(शशि कोन्हेर के साथ जयेंद्र गोले) :  बिलासपुर में दिनदहाड़े यूथ कांग्रेस के नेता की बेरहमी से पिटाई पर अब पुलिस के खिलाफ आक्रोश भड़क गया है। हमलावर यूथ कांग्रेस नेताओं के खिलाफ केस दर्ज नहीं करने से नाराज सतनामी समाज के लोग शनिवार की शाम सिविल लाइन थाने में घुस गए और थाने का घेराव कर जमकर हंगामा मचाया। विरोध-प्रदर्शन करते हुए धरने पर बैठे लोग FIR की मांग पर अड़ गए हैं।

Advertisement

शुक्रवार को मस्तूरी विधानसभा के अध्यक्ष नितेश सिंह व साथियों ने मस्तूरी के उपाध्यक्ष पर विश्वजीत अनंत पर लाठी-डंडे, रॉड और हॉकी स्टिक से हमला कर दौड़ा-दौड़ाकर मारा था। घायल युवा कांग्रेस नेता अभी भी अपोलो अस्पताल में भर्ती है। दूसरी तरफ पुलिस ने अब तक इस मामले में केस दर्ज नहीं किया है।

Advertisement

हमले में घायल है यूथ कांग्रेस मस्तूरी विधानसभा के उपाध्यक्ष

Advertisement


शुक्रवार को श्रीकांत वर्मा मार्ग स्थित मैग्नेटो मॉल के सामने यूथ कांग्रेसियों के बीच हुए विवाद ने अब समुदायिक आंदोलन का रूप लेने लगा है। दरअसल, ग्रामीण जिलाध्यक्ष जयकिशन उर्फ राजू यादव, बिल्हा विधानसभा अध्यक्ष सुनील साहू व मस्तूरी विधानसभा के उपाध्यक्ष विश्वजीत अनंत सहित अन्य कार्यकर्ता होटल से चाय-नाश्ता कर निकल रहे थे।

Advertisement

तभी मस्तूरी विधानसभा के अध्यक्ष व मस्तूरी जनपद पंचायत के उपाध्यक्ष नितेश सिंह ठाकुर 30-40 युवकों के साथ पहुंचा। उन्होंने विश्वजीत को कार से उतार कर गाली देते हुए हॉकी स्टिक, रॉड व डंडे से दौड़ा-दौड़ाकर मारना शुरू कर दिया। वहीं, सुनील साहू व अन्य बीच-बचाव करते रहे। चूंकि, हमलावरों की संख्या ज्यादा थी। लिहाजा, उन्होंने विश्वजीत को पकड़ लिया और जमीन पर लेटा कर हत्या करने की नीयत से ताबड़तोड़ पिटाई करते रहे।

Advertisement

राजनीतिक दबाव में केस दर्ज नहीं करने लगाया आरोप
शनिवार की शाम बड़ी संख्या में सतनामी समाज के लोग सिविल लाइन थाने में घुस गए और राज्य सरकार के साथ ही पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए हल्ला बोल दिया। हंगामा मचाते हुए युवकों की भीड़ थाने परिसर में ही धरने पर बैठ गई है। उनका आरोप है कि युवा कांग्रेस नेता नितेश सिंह पर केस दर्ज नहीं करने पुलिस पर राजनीतिक दबाव है, जिसके चलते कार्रवाई नहीं की जा रही है। वहीं, धरने में बैठे लोग हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कराने पर अड़े हुए हैं। उन्होंने FIR दर्ज होते तक आंदोलन जारी रखने की चेतावनी दी है।

एक दिन पहले युवा कांग्रेसियों ने मचाया था हंगामा

शुक्रवार की रात हमलावरों पर FIR कराने की मांग को लेकर युवा कांग्रेस नेता व समर्थकों ने सिविल लाइन थाने का घेराव कर दिया था। इस दौरान उन्होंने जमकर हंगामा मचाते हुए नारेबाजी की थी। इसके बाद भी पुलिस ने उनकी एक नहीं सुनी और हत्या के प्रयास का मामला दर्ज करने से इंकार कर दिया था।

गुटबाजी और दबाव के बाद सामने आए समाज के लोग
बताया जा रहा है कि युवा कांग्रेस नेताओं के बीच जमकर गुटबाजी चल रही है। यह विवाद भी इसी गुटबाजी का ही नहीं नतीजा है। चूंकि, दोनों ही पक्ष सत्ताधारी दल से तालुक रखते हैं। इसलिए युवा कांग्रेस नेताओं के एक धड़े ने अब अपना प्रभाव दिखाने के लिए सतनामी समाज के लोगों को आगे कर दिया है और धरना-प्रदर्शन कर केस दर्ज कराने के लिए दबाव बना रहे हैं।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button