देश

कोरोना काल में बंद हुई सभी ट्रेनें फिर पटरी पर दौड़ेगी, इसी सप्ताह 500 ट्रेनों को मिलेगी हरी झंडी

(शशि कोन्हेर) : कोरोना के दौरान बंद सभी ट्रेनों का संचालन इसी सप्ताह शुरू हो जाएगा। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इसके लिए मंत्रालय को निर्देश दिया है। संबंधित जोन से सप्ताह भर के भीतर अपनी तैयारी कर लेने को कहा गया है।

Advertisement

इस सप्ताह 500 ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा। मुश्किलें झेल रहे यात्रियों को इससे भारी राहत मिलेगी। इसके बाद महामारी के समय बंद हुई सारी ट्रेनें पटरियों पर दौड़ने लगेंगी।

Advertisement

चरणबद्ध तरीके से शुरू होगा संचालन

Advertisement


कोरोना के मामले घटने के बाद जरूरत और मांग के मद्देनजर ट्रेनों का संचालन चरणबद्ध तरीके से शुरू किया गया। फिलहाल 2,300 ट्रेनों का संचालन हो रहा है। 500 ट्रेनों का संचालन अब भी नहीं हो पाया है।

सरकार के इस फैसले के बाद चलाई जाने वाली 500 ट्रेनों में एक सौ से अधिक ट्रेनें मेल व एक्सप्रेस श्रेणी की हैं। बाकी 400 ट्रेनें पैसेंजर हैं। इन पैसेंजर ट्रेनों के बंद होने से स्थानीय स्तर पर चलने वाले दैनिक यात्रियों की समस्या बढ़ गई थी।

मानसून सत्र में ट्रेनों को चलाने की मांग उठी


बंद ट्रेनों को चलाने के लिए विभिन्न क्षेत्रों से मांग बढ़ गई थी। मानसून सत्र के दौरान भी कई सांसदों ने वैष्णव से मिलकर बंद ट्रेनों को चलाने का आग्रह किया। वर्तमान में चलाई जा रही 2,300 ट्रेनों में 1,770 ट्रेनें मेल व एक्सप्रेस श्रेणी की हैं। अगले सप्ताह इनकी संख्या 1,900 से अधिक हो जाएंगी।

कोरोना के बाद स्थिति सामान्य होने पर भी ज्यादातर पैसेंजर ट्रेनों का संचालन शुरू नहीं हो पाया था। कुछ पैसेंजर ट्रेनों का संचालन किया जा रहा था, तो यात्रियों की संख्या घटाने के उद्देश्य से मेल व एक्सप्रेस का किराया वसूला जा रहा था।

Advertisement

दो और वंदे भारत ट्रेने चलाई जाएंगी

Advertisement


इस साल अगस्त तक दो और वंदे भारत ट्रेनों का संचालन होने की उम्मीद है। ये ट्रेने चेन्नई में इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (ICF) द्वारा निर्मित की जा रहीं हैं जो अंतिम चरण में हैं। नवनिर्मित वंदे भारत ट्रेनों का ट्रायल रन अगस्त के दूसरे सप्ताह में शुरू होगा। इन ट्रेनों के सफल परीक्षण के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हरी झंडी देंगे। इन ट्रेनों के रूट अभी तय नहीं हुए हैं, जो विभिन्न विभागों से NOC मिलने के बाद किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button