देश

अजमेर दरगाह के खादिम को बचने की सलाह देने वाले डीएसपी पर हुई कार्रवाई….

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : राजस्थान में अजमेर दरगाह के खादिम सलमान चिश्ती को क़ानूनी कार्रवाई से बचने की सलाह देने के आरोप में बुधवार को डिप्टी एसपी संदीप सारस्वत को दरगाह शरीफ़ के सीओ पद से हटा दिया गया है.

Advertisement

आरोप है कि सलमान चिश्ती की गिरफ़्तारी के दौरान डिप्टी एसपी ने चिश्ती से कहा था कि वो ये बोलकर बच जाएँ कि वीडियो नशे में बनाया था. इसका वीडियो भी सामने आया है.

Advertisement

कार्यवाहक महानिदेशक पुलिस उमेश मिश्रा ने बयान जारी कर बताया है, “नूपुर शर्मा की हत्या के लिए उकसाने का बयान देने के मामले में मंगलवार रात अभियुक्त हिस्ट्रीशीटर सैयद सलमान चिश्ती की गिरफ़्तारी के दौरान वायरल वीडियो के मामले में दरगाह सीओ संदीप सारस्वत को राज्य सरकार के निर्देशानुसार पुलिस मुख्यालय द्वारा एपीओ (अगली पोस्टिंग का इंतज़ार) कर प्रकरण की जाँच विजिलेंस शाखा को सौंपी गई है.”

वायरल हुए वीडियो के बारे में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) विकास सांगवान ने बताया “अभियुक्त नशा करने का आदी है. अभियुक्त पहले भी गिरफ़्तारी के समय ख़ुद को नुक़सान पहुँचाने का प्रयास कर चुका है, इसे ध्यान में रखते हुए उसको समझा-बुझाकर कस्टडी में लिया जा रहा था. जिससे मौक़े पर परिस्थिति बिगड़ ना जाए.”

वीडियो ट्वीट करते हुए बीजेपी की पूर्व सरकार में शिक्षा मंत्री रहे वासुदेव देवनानी ने पुलिस पर आरोप लगाए थे. इसके बाद विवाद बढ़ने पर मामला उच्चाधिकारियों तक पहुंचा था. देर रात सारस्वत की पोस्टिंग जयपुर पुलिस मुख्यालय करने के आदेश जारी किए गए.

नुपुर शर्मा का सिर कलम करने की धमकी देने का सलमान चिश्ती का एक वीडियो वायरल हुआ था. जिसके बाद मंगलवार रात चिश्ती को गिरफ़्तार किया गया. चिश्ती दरगाह के खादिम और दरगाह पुलिस थाने का हिस्ट्रीशीटर भी हैं.

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button