देश

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के प्रखर समर्थक आचार्य धर्मेंद्र का निधन

(शशि कोन्हेर) : राम मंदिर आंदोलन के प्रखर समर्थक और लोगों को रामलला के मंदिर की स्थापना के लिए जोशो खरोश से लबालब करने वाले आचार्य धर्मेंद्र का आज निधन हो गया। वे 80 वर्ष के थे। आचार्य का बीते कई दिनों से जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में उपचार चल रहा था।

Advertisement

वहीं उन्होंने अंतिम सांसें लीं। उनके निधन पर गृह मंत्री श्री अमित शाह ने अपनी भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की। आचार्य श्री धर्मेंद्र महाराज का जन्म 9 जनवरी 1942 को गुजरात के मालवाड़ा में हुआ था। प्रारंभ से ही उनकी वाणी में मां सरस्वती विद्यमान रही। वे प्रखर तेजस्वी वक्त आ रहे।

Advertisement

राम जन्मभूमि संघर्ष अभियान के प्रमुख पात्रों में से एक थे और विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल में थे। उनका जीवन राष्ट्र धर्म और संस्कृति के लिए समर्पित रहा। ऐसे महान संत का जाना हिंदू धर्म राष्ट्र और संस्कृति के लिए अपूर्ण क्षति ही कहा जाएगा।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button