मुंगेली

एक ऐसा गांव जहां के युवा प्रकृति संरक्षण के लिए संकल्पित हो चलाते है हरियाली अभियान, हर साल मानसून आते ही करते है वृहद वृक्षारोपण…..

Advertisement

(मोहम्मद अलीम) : मुंगेली – होल्हाबाग नवयुवा समिति बांकी एक ऐसा नाम जो अपने गांव और आसपास के हरियाली के संरक्षण और संवर्धन की जिमेदारी बखूबी निभाते हुवे पर्यावरण संतुलन के लिए विगत सात वर्षों से पौधरोपण करते आ रही है। इसी क्रम में इस वर्ष भी पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य से संस्था द्वारा “हरियाली सप्ताह” मनाया जा रहा है जिसके तहत युवाओं की टोली ने ‘होल्हाबाग उद्यान परिसर’ में नीम, पारस पीपल, करंज, पीपल, अर्जुन, कोनोकार्पस आदि के 40 पौधे रोपित किये।

Advertisement


बता दे इससे पहले विगत छः वर्षों में होल्हाबाग नवयुवा समिति द्वारा “हरियर बांकी-सुघ्घर बांकी” अभियान के तहत गांव में 400 से अधिक पौधे ट्री गार्ड के साथ और 500 से अधिक फेंसिंगयुक्त खुले स्थान में रोपित किये जा चुके हैं जो आज ग्राम बांकी को हराभरा बना कर एक अलग पहचान दे रही है। इस अवसर पर होल्हाबाग नवयुवा समिति के संस्थापक रामपाल सिंह ने कहा कि प्रकृति एवं पर्यावरण की तबाही को रोकने के लिये बुनियादी बदलाव जरूरी है और वह बदलाव सरकार की नीतियों के साथ जीवनशैली में भी आना जरूरी है। इसके लिये वृक्षारोपण जीवनशैली बने तभी मानवता के सम्मुख मंडरा रहे खतरों से बचा जा सकेगा। संस्था के संयोजक नागेश साहू ने कहा कि वृक्ष हमारी संस्कृति के संरक्षक माने जाते हैं इससे ही हमें स्वच्छ वायु, जल एवं फलयुक्त भोजन प्राप्त होता है ऐसे में पर्यावरण संस्कृति को बचाने के लिए लोगों को बढ़चढ़ कर वृक्षारोपण करना चाहिए।

Advertisement

संस्था के अध्यक्ष पवन निर्मलकर ने हरियाली सप्ताह के उद्देश्य को बताते हुवे कहा कि गांव को और अधिक हराभरा बनाने के साथ ही पर्यावरण के प्रति सबको प्रेरित करने के लिए प्रति वर्ष हमारी संस्था द्वारा हरियाली सप्ताह मनाया जाता है जिसके तहत सप्ताह के सातों दिन पर्यावरण संरक्षण के दिशा में कार्य किया जाता है ताकि बरसात में पौधों के विकास में तेजी से वृद्धि हो।

इस अवसर पर संस्था के संस्थापक रामपाल सिंह, संयोजक नागेश साहू, अध्यक्ष पवन निर्मलकर,सनत साहू, पिंटू पूरी, योगेंद्र साहू, पप्पू पूरी, उपाध्यक्ष योगेंद्र पूरी, यशवंत साहू, पर्यावरण प्रभारी रिंकू यादव, बबलू साहू, अमित गिरी, मुकेश निर्मलकर, रिंकू पूरी, राघवेंद्र निर्मलकर, भुवन साहू, पालु श्रीवास, तिलेश्वर निर्मलकर, बिट्टू साहू, धर्मेन्द्र गोस्वामी, राजू निर्मलकर, बुधराम यादव, किशन निर्मलकर, जितेंद्र श्रीवास, गुलशन यादव, टीपूचंद, भवानी सिंह, छोटू, सौरभ गिरी, आशीष निर्मलकर, शुभम पुरी, किशन यादव, हेमलाल निर्मलकर, प्रताप रजक सहित संस्था के सभी सदस्य उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button