बिलासपुर

लालखदान में एक लाश, भिखारी और मज़दूरों का शोषण करती एक कंपनी…..

Advertisement

(इरशाद अली संपादक लोकस्वर टीवी) : बिलासपुर – बिलासपुर प्रेस क्लब में सोमवार को थिएटर से जुड़े कुछ कलाकार और छत्तीसगढ़ी वेब सीरीज के डायरेक्टर ने पत्रकारों से चर्चा की। 15 अप्रैल से लाल खदान वेब सीरीज डिजिटल प्लेटफॉर्म पर आने वाली है। इसके पहले डायरेक्टर कौशल उपाध्याय ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए बताया कि लाल खदान वेब सीरीज में एक मर्डर है एक भिखारी और कुछ एक कहानी को मिला करके वेब सीरीज बनाई गई है। दो पार्ट में वेब सीरीज बनाई जाएगी। पहले पार्ट में वेब सीरीज के भाग होंगे जिसमें सस्पेंस थ्रिलर और मनोरंजन के तमाम कंटेंट्स को शामिल किया गया है।यह वेब सीरीज गूगल प्ले में जाकर N MAHI FILMS को डाउनलोड करने के बाद देखी जा सकती है। पत्रकारों से चर्चा करते हुए कलाकारों ने बताया कि वे सभी थिएटर ग्रुप से जुड़े हुए कलाकार हैं जो दुर्ग रायपुर में रहकर इस फिल्म की शूटिंग की है। पत्रकारों के उत्सुकता भरे सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने बताया कि वास्तव में इस फिल्म का लाल खदान की जमीन और वहां के लोगों से कोई वास्ता नहीं है।और ना ही वहां पर कोई फिल्म शूटिंग की गई है। लेकिन लॉकडाउन के दौरान बिलासपुर में रहने के दौरान उन्हें लाल खदान गांव का नाम सुनने में नाम पसंद आ गया।जो फिल्म को वजन देने के लिए उन्होंने लाल खदान वेब सीरीज का नाम दे दिया। इस फ़िल्म में न तो लालखदान के कलाकार हैं और ना ही वहां की किसी भी अपराधिक या ऐतिहासिक घटनाओं से कोई वास्ता है। लेकिन डायरेक्टर ने जरूर दावा किया है की आने वाली वेब सीरीज में वो लाल खदान को अब जरूर शामिल करेंगे क्योंकि वहां की घटनाएं और मामले उन्हें प्रभावित कर रहे है। दरअसल इस फिल्म में एक मजदूर एक लाश और एक कंपनी को ले करके पूरी फिल्म तैयार की गई है। जिसमें पत्रकारों का भी रोल है जो गांव-गांव जाकर मर्डर और मजदूरों के शोषण को लेकर के सवाल जवाब करते नजर आते हैं।

Advertisement

डायरेक्टर ने दावा किया कि यह फिल्म पूरी तरह छत्तीसगढ़ी में है। जिसे देखने के बाद काफी अच्छा लगेगा। इससे पहले भी यह कलाकार अलग-अलग वेब सीरीज या थिएटर में काम कर चुके हैं। और ऐसा माना जा रहा है कि इनके अनुभव का इनके वेब सीरीज से दर्शकों को लाभ मिलेगा। इनमें से अधिकांश लोगों की शिक्षा दीक्षा बिलासपुर में ही हुई है, लेकिन अब वे भले बिलासपुर में नहीं रहते। कलाकार और डायरेक्टर ने सभी से आग्रह किया है कि 15 अप्रैल के बाद एन माही फिल्म को जरूर डाउनलोड कर उनकी इस वेब सीरीज को देखें। वर्षों पुरानी प्रचलित फिल्मों से हटकर इस फिल्म का आनंद लें। पत्रकार वार्ता के दौरान डायरेक्टर कौशल उपाध्याय, अदाकारा हेमा शुक्ला, सुब्रत शर्मा, शशांक द्विवेदी, स्वप्निल फिलिमोन, दीपा उपाध्याय और प्रांजल उपस्थित रहे।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button