2021 तक पूरा होगा भारत-बांग्लादेश रेलवे लाइन का काम : जितेंद्र

42

नई दिल्ली । भारत के पूर्वोत्तर क्षेत्र से बांग्लादेश को जोड़ने वाली रेलवे लाइन का काम वर्ष 2021 के अंत तक पूरा हो जाएगा। अगरतला और बांग्लादेश में अखौरा के बीच रेलवे लाइन का निर्माण पूरा हो जाएगा, तो 2022 में पूर्वोत्तर से बांग्लादेश तक पहली ट्रेन चलाने का मार्ग भी खुल जाएगा। पूर्वोत्तर में कुछ आगामी परियोजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास के लिए केंद्रीय मंत्री सिंह ने कहा कि 15.6 किमी लंबी रेलवे लिंक बांग्लादेश में गंगासागर को भारत के निश्चिन्तपुर (10.6 किमी) और निश्चिन्तपुर से अगरतला रेलवे स्टेशन (5.46 किलोमीटर) को जोड़ेगी। भारतीय हिस्से में 5.46 किमी रेलवे लाइन बिछाने का खर्च उनका मंत्रालय वहन करेगा, जबकि बांग्लादेश में 10.6 किमी रेलवे लाइन बिछाने का खर्च विदेश मंत्रालय वहन करेगा।
भूमि के अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी हो गई है और यह जमीन इरकॉन इंटरनेशनल लिमिटेड के उप मुख्य अभियंता रमन सिंगला को सौंप दी गई है। भारतीय पक्ष में काम तेजी से चल रहा है और हम इसे सितंबर 2021 से पहले पूरा करने की उम्मीद करते हैं। भारतीय पक्ष में भारत-बांग्ला रेलवे कार्य के लिए 580 करोड़ रुपये मंजूर किए गए हैं। भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करने वाले पश्चिम त्रिपुरा के जिला मजिस्ट्रेट महात्मे एन संदीप ने पुष्टि की कि मंत्रालय ने सितंबर, 2021 तक रेलवे परियोजना को पूरा करने का लक्ष्य रखा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here