play-sharp-fill
छत्तीसगढ़बिलासपुर

आजादी का अमृत महोत्सव जागरूकता प्रतियोगिता में 39 बने विजेता

(कमल दुबे) : बिलासपुर :  सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के केंद्रीय संचार ब्यूरो रायपुर द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव त्रिदिवसीय मल्टीमीडिया चित्र प्रदर्शनी के तहत तीन दिनों में रस्सा खींच, मटकाफोड़, देशभक्ति गीत गायन, निबंध, भाषण, रंगोली, पेंटिंग, प्रश्नमंच व कुर्सी दौड समेत कुल नौ जागरूकता प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इन जागरूकता प्रतियोगिताओं में शहर के 23 शिक्षण संस्थानों के 687 प्रतिभागियों ने पंजीयन कराया। इनमें श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले 39 प्रतिभागियों ने बाजी मारी।

Advertisement

रस्सा खींच़ व मटका फोड़ को छोड़ कर शेष प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय, तृतीय व दो सांत्वना पुरस्कार निर्धारित था। सभी विजेता प्रतिभागियों को गुरूवार को दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी साकेत रंजन व केंद्रीय संचार ब्यूरो रायपुर के कार्यालय प्रमुख शैलेष फाये के हाथों पुरस्कार व प्रमाणपत्र प्रदान किया गया। इससे पूर्व तीसरे दिन प्रश्नमंच, कुर्सी दौड़, रस्सा खींच व देशभक्ति गीत गायन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। वहीं विभिन्न संस्थानों से जुड़े कलाकारों ने देशभक्ति गीतों पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी।

Advertisement

विभाग के पंजीकृत कलाकारों द्वारा गीत-संगीत के माध्यम से आजादी का अमृत महोत्सव का संदेश दिया गया। भारतीय डाक विभाग की ओर से सुनीता द्विवेदी ने डाक विभाग द्वारा दी जा रही सेवाओं के बारे में जानकारी दी। उन्होंने विद्यार्थियों को शून्य बैलेंस वाले चाइल्ड बचत खाते खोलने के लिए प्रोत्साहित किया। यूनिसेफ की रीमा गांगुली ने आजादी का अमृत महोत्सव के तहत चलाए जा रहे 75 दिनों के लिए चलाए जा रहे निःशुल्क वैक्सीनेशन के बारे में जानकारी दी गई।

Advertisement


इस संबंध में कार्यक्रम के आयोजक अधिकारी शैलेष फाये ने बताया कि भारतीय रेल के नॉर्थ ईस्ट इंस्टीट्यूट स्केटिंग कोर्ट परिसर में आयोजित त्रिदिवसीय मल्टीमीडिया चित्र प्रदर्शनी का उद्घाटन 16 अगस्त को सांसद अरुण साव व दक्षिण पूर्व मध्य रेल के महाप्रबंधक आलोक कुमार के हाथों हुआ था। इसके तहत जागरूकता रैली, विविध प्रकार की जागरूकता प्रतियोगिताओं व गीत-संगीत के माध्यम से लोगों को आजादी का अमृत महोत्सव का संदेश दिया गया।

मुख्य कार्यक्रम स्थल पर देश की आजादी के विभिन्न घटनाक्रमों को ऐतिहासिक फोटो व संदेश के माध्यम से लोगों में जागरूकता प्रसार किया गया। कार्यक्रम में राष्ट्रीय सेवा योजना से जुड़े विभिन्न संस्थानों, रेलवे के विभिन्न स्कूल, बुधवारी बाजार स्थित शासकीय विद्यालय व केंद्रीय विद्यालय का सहयोग रहा। कार्यक्रमों के समन्वय में केंद्रीय संचार ब्यूरो बिलासपुर के कार्मिक खेलन दीवान, केवी गिरी, शशांक सचान, अंबिकालाल व रंजीत मिश्रा का महत्वपूर्ण योगदान रहा। सहयोग व समन्वय के लिए सभी का आभार क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी डॉ. प्रेम कुमार ने माना।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button