छत्तीसगढ़

ब्लाइंड मर्डर सहित कई मामले सुलझाने हेतु निरीक्षक धर्मेन्द्र वैष्णव सहित 08 पुलिस अधिकारी कर्मचारी बने  “काॅप ऑफ द मंथ”अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने किया सम्मानित

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह बिलासपुर द्वारा पुलिसिंग में अच्छा कार्य कर रहे अधिकारियों कर्मचारीयों को प्रोत्साहित करने हेतु प्रति माह “कॉप ऑफ द मंथ्” पुरस्कार दिया जाता है और कर्तव्य में कमी करने वाले को दंडित किया जाता है। इस कड़ी में माह अप्रेल 2023 पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आज 8 पुलिस अधिकारियों कर्मचारियों को “कॉप ऑफ द मंथ”सम्मान से सम्मानित किया गया।

Advertisement

इनमें से निरीक्षक धर्मेन्द्र वैष्णव प्रभारी, एसीसीयू को थाना चकरभाठा में मर्डर कर अंगभंग करने के आरोपी को पकड़ने एवं अन्य कई अंधे कत्ल के आरोपियों की धरपकड़ करने में उत्कृष्टता हेतु… उनि. ओम प्रकाश कुर्रे चौकी बेलगहना थाना कोटा को 2.5 क्विंटल गांजा घेराबंदी कर बरामद करने हेतु, प्र.आर. 571 दिलीप सिंह को पु.अ.कार्यालय के कार्यालयीन कार्य में उत्कृष्ट कार्य हेतु, प्र.आर अजय चौरसिया थाना कोनी को पुन्नी बाई के कब्जे से 78 नग चांदी के पायल बरामद कर आरोपी की गिरफ्तारी करने के उल्लेखनीय कार्य हेतु, प्र.आर. राकेश तिवारी थाना यातायात कोे यातायात संबंधी कार्यों को जिम्मेदारीपूर्वक निर्वहन करने के सराहनीय कार्य हेतु, आर. संजय कश्यप थाना कोटा को ग्राम मानपुर थाना कोटा में वृद्ध महिला की हत्या के फरार आरोपी को गिरफ्तार करने में सराहनीय भूमिका हेतु, आर. शिवधन बंजारे थाना पचपेड़ी को 12 लाख रूपये मूल्य के स्वर्ण आभूषणों की चोरी के प्रकरण में सूझबूझ से बरामदगी कराने के सराहनीय कार्य हेतु, म.आर लक्ष्मी नेताम महिला थाना को सी.सी.टी.एन.एस. कार्य में उत्कृष्ट भूमिका हेतु “कॉप ऑफ मंथ” सम्मान से सम्मानित किया गया है।

Advertisement


चुने गए कर्मचारियों को नगद इनाम एवं गुड सर्विस एंट्री व प्रशंसापत्र के साथ ही उनका फोटो समस्त पुलिस कार्यालयों और सभी थाना व चौकी के नोटिस बोर्ड पर पूरे माह के लिए लगा रहेगा। इससे दूसरे पुलिसकर्मी भी अच्छा कार्य करने के लिए प्रोत्साहित होंगे।

पुलिस अधीक्षक बिलासपुर संतोष सिंह द्वारा स्पष्ट रूप से कहा गया है कि जनता से अच्छा व्यवहार जिम्मेदारी एवम निष्ठापूर्वक कार्य करने वाले पुलिसकर्मियों को हमेशा सम्मानित किया जाएगा। वही अवैध काम में लिप्त व अनुशासनहीन आचरण करने वाले पुलिसकर्मियों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी।

माह अप्रैल में एनडीपीएस प्रकरण में संदिग्ध आचरण हेतु कांस्टेबल बी अनिल राव, तखतपुर को किया गया था निलंबित और आरक्षक गोविंदा जायसवाल, पचपेड़ी को सरकारी दस्तावेज सोशल मीडिया में शेयर करने पर लाइन अटैच किया गया है।
इस अवसर पर राजेश श्रीवास्तव उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय एवम् कार्यालय के समस्त स्टॉफ उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button