देश

बंगाल

कोलकाता – बंगाल में पिछले साल विधानसभा चुनाव के बाद पहली बार केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के दो दिवसीय बंगाल दौरे के बीच कोलकाता में भाजपा कार्यकर्ता का संदिग्ध अवस्था में शुक्रवार को शव मिलने के बाद राजनीति गरमा गई। कोलकाता के काशीपुर इलाके में पार्टी कार्यकर्ता का सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी के फंदे से लटका हुआ शव बरामद किया गया। मृतक की पहचान काशीपुर विधानसभा निवासी अर्जुन चौरसिया (27) के रूप में हुई है।

Advertisement

पुलिस ने कहा कि भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ता अर्जुन चौरसिया का शव घोष बागान इलाके में एक सुनसान इमारत में लटका मिला। वहीं, भाजपा ने इसे हत्या बताते हुए इसके लिए सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को जिम्मेदार ठहराया है। हालांकि तृणमूल ने आरोपों को खारिज किया है। भाजपा नेताओं ने इस घटना पर गहरा शोक जताया है।

Advertisement

इधर, इस घटना के बाद पार्टी ने कोलकाता में शाह के स्वागत समारोह के सभी कार्यक्रमों को भी रद कर दिया है। प्रदेश भाजपा की ओर से एक बयान जारी कर यह जानकारी दी गई है। बताया जा रहा है कि उत्तर बंगाल से दोपहर में कोलकाता लौटने के बाद गृह मंत्री अमित शाह मृतक कार्यकर्ता के परिवार से मिलने उनके घर भी जा सकते हैं।

Advertisement

बता दें कि अमित शाह गुरुवार से बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर हैं और आज दोपहर में कोलकाता लौटने पर यहां पार्टी की प्रदेश इकाई के वरिष्ठ नेताओं, सांसदों और विधायकों के साथ वे सांगठनिक बैठक भी करने वाले हैं। उनके दौरे के बीच भाजपा कार्यकर्ता की मौत की घटना से एक बार फिर बंगाल में राजनीति गरमा गई है। राज्य के एक वरिष्ठ भाजपा नेता ने कहा कि शाह, जो राज्य के दो दिवसीय दौरे पर हैं, आज दोपहर चौरसिया के आवास का दौरा करेंगे।प्रदेश भाजपा प्रवक्ता समिक भट्टाचार्य ने कहा, वह एक कुशल पार्टी कार्यकर्ता थे। हमने आज सुबह उन्हें मृत हालात में पाया। बता दें कि उत्तर कोलकाता के काशीपुर का रहने वाला अर्जुन चौरसिया भारतीय जनता पार्टी युवा मंडल मोर्चा के वाइस प्रेसिडेंट थे।

भाजपा के एक अन्य वरिष्ठ नेता ने कहा कि शाह पार्टी कार्यकर्ता की मौत की खबर सुनकर बहुत दुखी हैं। उन्होंने इस घटना के बाद कोलकाता के नेताजी सुभाष चंद्र बोस हवाई अड्डे पर अपना भव्य स्वागत रद करने के लिए भी पार्टी नेताओं को कहा है।इधर, भाजपा के आरोपों का खंडन करते हुए टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने कहा, इस घटना के लिए पार्टी पर लगाए गए आरोप निराधार हैं। पुलिस को मामले की जांच करने दें। पुलिस ने कहा कि घटना की जांच शुरू कर दी गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button