छत्तीसगढ़बिलासपुर

रेत माफिया पर कड़ी कार्रवाई के बिना अरपा नदी में बारहों माह पानी की मुख्यमंत्री  की ड्रीम योजना साकार नहीं हो पाएगी-महेश दुबे टाटा महराज सदस्य अरपा बेसिन प्राधिकरण

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : मां” बिलासपुर।अरपा मां नामामि “सैकड़ों सभ्यताओं की जन्मदात्री,ऋषि-मुनियों कि अराध्य देवी,जीव-जन्तु तथा वनस्पतियों के जीवन का आधार होने के बाद भी वर्तमान समय में नदियों का जो हाल है, वो मानव के लज्जाहीन एवं एहसान फरामोश होने के साथ-साथ भविष्य से अनभिज्ञ होने का भी संकेत देता है!

Advertisement


हमारी आप की लाख कोशिशों के बावजूद खनन माफ़िया के हौंसले बुलंद है अरपा की दशा- दुर्दशा के दर्द का एहसास छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री माननीय श्री भूपेश बघेल जी को अपने अध्यक्षीय कार्यकाल में अरपा किनारे किए गए पदयात्रा मैं ही हो गया था राज्य की बागडोर संभालते ही अरपा के प्रति समर्पित गीत को राज्य गीत घोषित किया बिलासपुर जिले के प्रथम आगमन पर अरपा को अरपा बनाए रखने हेतु संकल्प दोहराते हुए इसके उन्नयन एवं संरक्षण के लिए कटिबद्ध होकर प्राथमिकता के साथ कार्य कर जिले की सबसे महंती  योजना की घोषणा कर अरपा के प्रति अपना समर्पण व्यक्त किया!

Advertisement


मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के सपनों पर कुठाराघात खनन माफियाओं द्वारा किया जा रहा है। खनिज विभाग द्वारा की जा रही कार्रवाई का असर कहीं दिखाई नहीं दे रहा है। कछार सेन्दरी घुट्कु के आसपास क्षेत्रों में दिन रात सैकड़ों ट्रैक्टर लगाए जा रहे हैं और बेदर्दी से बेखौफ अरपा की छाती चीरी जा रही है। जिसका परिणाम अरपा रेत विहीन हो रही है जिसका दुखद परिणाम या होगा कि नदी में बारहमासी पानी का सपना कभी साकार नहीं हो पाएगा।


श्री भूपेश बघेल का ड्रीम प्रोजेक्ट अरपा उन्नयन पर्यावरण संरक्षण वृहद वृक्षारोपण प्रदूषण मुक्त जल को साकार करने हेतु सर्वप्रथम बेदर्दी बेखौफ उत्खनन पर कड़ाई से प्रतिबंध लगाया जाए खनन माफियाओं पर अंकुश लगाने हेतु कड़े कानूनी कार्रवाई किए जाने की जरूरत है महज जुर्माने से काम नहीं चलेगा जरूरत ऐसे कृत्य को अंजाम देने वालों पर अपराधिक मामला दर्ज हो एवं गाड़ियों को राजसात करना चाहिए!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button