देश

चाय में जहर दे दोगे तो?” : पुलिस अफसरों से बोले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, यूपी का सियासी पारा चढ़ा

Advertisement

(शशि कोन्हेर) : जबरदस्त ठंड में लखनऊ का सियासी पारा बढ़ा हुआ है. रविवार को सुबह 11 बजे समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव अचानक पुलिस मुख्यालय पहुंच गए. अखिलेश यादव से पुलिस ने चाय के लिए पूछा तो उन्होंने कहा कि “आप इसमें जहर मिलाकर दे रहे हों तो?” रविवार को सुबह सपा के सोशल मीडिया के कार्यकर्ता मनीष जगन अग्रवाल को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार किया था. अखिलेश यादव इसके विरोध में बीजेपी के सोशल मीडिया के कुछ नेताओं के खिलाफ शिकायत लेकर पुलिस मुख्यालय पहुंचे थे.

Advertisement

अखिलेश यादव लगभग दो घंटे पुलिस मुख्यालय में मौजूद रहे. इस बीच मुख्यालय के बाहर बड़ी तादाद में सपा कार्यकर्ता इकट्ठे हो गए. अखिलेश यादव ने बयान दिया कि उनसे बात करने के लिए पुलिस का कोई बड़ा अधिकारी मौजूद नहीं था. इस पर यूपी पुलिस के हाथ पैर फूल गए और थोड़ी देर में आला अधिकारी मौके पर पहुंचे. उन्होंने अखिलेश यादव से शिकायत पत्र स्वीकार किया.

Advertisement

अखिलेश यादव से पुलिस मुख्यालय में पुलिस अधिकारियों ने चाय के लिए पूछा. इस पर उन्होंने कहा कि, ”नहीं चाय आप नहीं, हम बुलवाते हैं. इसके बाद उन्होंने एक पार्टी कार्यकर्ता से कहा कि देखो कोई चाय की दुकान खुल गई हो तो चाय ले आओ.”

इसके बाद अखिलेश यादव ने पुलिस अधिकारियों से कहा कि, ”हम आपकी चाय नहीं पियेंगे. यहां की चाय नहीं पियेंगे, बाहर की पियेंगे. या फिर हम अपनी चाय लाएंगे, कप आपका ले लेंगे. हम नहीं पी सकते, जहर दे दोगे तो? हां, हमें भरोसा नहीं है. सच में भरोसा नहीं है मुझे. हम बाहर से मंगा लेंगे चाय, आप भी पीजिए, हम भी पियेंगे.”   

सपा अध्यक्ष के इस रुख पर पुलिस अधिकारी हैरत में पड़ गए. हालांकि अखिलेश यादव की शिकायत पर बीजेपी की आईटी सेल की ऋचा राजपूत पर भी पुलिस ने मुक़दमा दर्ज कर लिया है.

बाद में इस मामले पर यूपी पुलिस के एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस की. उन्होंने कहा कि, ”बाद में उन्होंने (अखिलेश यादव) अधिकारियों की मौजूदगी में चाय पी. सभी ने उनके साथ अच्छा व्यवहार किया था. तमाम वरिष्ठ अधिकारी वहां मौजूद थे. उनकी बात सुनी गई और उन्हें सब कुछ समझाया गया. वे सबसे संतुष्ट होकर चले गए.”

अखिलेश पुलिस मुख्यालय से निकलने बाद अपने आईटी सेल के कार्यकर्ता मनीष अग्रवाल से मिलने लखनऊ जेल पहुंचे. 

Advertisement

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button